फर्जी पेपर पर बैंक से लिया 80 लाख का लोन, गारंटर गिरफ्तार

लखनऊ: बैंक ऑफ महाराष्ट्र से कारोबार के नाम पर 80 लाख रुपये ठगने वाले गैंग के एक जालसाज गारण्टर को विकासनगर पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। आरोपित अशोक कुमार बाजपेयी उर्फ ताराचन्द्र मूल रूप से इटौंजा महिगवां स्थित ग्राम राजपुर का रहने वाला है। यहां मड़ियांव के फैजुल्लागंज स्थित वैष्णवीपुरम में रहता है। पुलिस उक्त फर्जीवाड़े में मुख्य आरोपित सुमित को पूर्व में जेल भेज चुकी है।

एएसपी ट्रांसगोमती राजेश श्रीवास्तव ने बताया कि नवम्बर 2015 में बैंक ऑफ महाराष्ट्र से हजरतगंज निवासी कारोबारी सुमित कुमार चतुव्रेदी ने अपनी फर्म आंचल ट्रेडर्स के नाम पर 80 लाख का लोन लिया था। लोन के दौरान सुमित ने ताराचन्द्र के अलीगंज सेक्टर-जी स्थित प्लॉट के पेपर बैंक में बंधक रखे थे। लोन हासिल कर कारोबारी ने रकम हड़प ली। किश्तें न अदा करने पीड़ित ने पड़ताल करते हुए बंधक पेपर चेक किये तो वह जाली मिले। पड़ताल में पता चला कि उक्त प्लॉट ओडिशा निवासी कंचन श्रीवास्तव का है। यही नहीं आरोपित सुमित, उनकी पत्नी आंचल व अंजू लता ने बैंक से होम लोन के नाम पर भी 50 लाख का फर्जीवाड़ा किया।

फर्जीवाड़ा सामने आने पर बैंक के अंचल प्रबंधक आरटी परुलेकर ने विकासनगर थाने में बीते 29 जून को सुमित कुमार चतुव्रेदी, उनकी पत्नी आंचल माथुर, गारण्टर तारा चन्द्र व अंजू लता के खिलाफ जाली दस्तावेज के आधार पर धोखाधड़ी की रिपोर्ट दर्ज करायी थी। इंस्पेक्टर धीरज कुमार शुक्ला ने बताया कि पड़ताल की गयी तो पता चला कि गारण्टर ताराचन्द्र का असली नाम अशोक कुमार बाजपेयी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper