फानी से निपटने की तैयारी, तटीय इलाके से निकाले जाएंगे 8 लाख लोग, 103 ट्रेनें रद्द

नई दिल्ली: बंगाल की खाड़ी में उमड़ रहा चक्रवाती तूफान फानी विकराल होता जा रहा है। बंगाल की खाड़ी के ऊपर 200 किमी/प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल रही हैं। इसे लेकर ओडिशा, तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में हाई अलर्ट जारी किया गया है। अनुमान के अनुसार, चक्रवात फानी ओडिशा तट तक 3 मई तक पहुंचेगा।

इस चक्रवाती तूफान फानी के मद्देनजर ईस्ट कोस्ट रेलवे ने ओडिशा में 103 ट्रेनों को रद्द कर दिया है। भीषण चक्रवाती तूफान की वजह से यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए ट्रनों को रद्द करने का फैसला किया गया। साथ ही रेलवे ने यात्रियों को कार्यक्रम के मुताबिक यात्रा की योजना बनाने की सलाह दी है। राज्य सरकार ने तटीय और निचले इलाकों में रहने वाले करीब 8 लाख लोगों को गुरुवार शाम तक सुरक्षित स्थान में पहुंचाने का लक्ष्य रखा है।

ओडिशा के भद्रक और आंध्र प्रदेश के विजयनगरम के बीच रेलवे सेवाओं को निलंबित कर दिया गया है। इसके अलावा भुवनेश्वर और पुरी की ओर जाने वाली ट्रेनों को गुरुवार यानी 2 मई की शाम से रोक दिया जाएगा। ईस्ट कोस्ट एक्सप्रेस और कोरोमंडल एक्सप्रेस 2 मई को हावड़ा से नहीं चलेगी. इसके अलावा हावड़ा से पुरी के लिए जानी वाली ट्रेनें भी रद्द रहेंगी। बेंगलुरू, चेन्नई और सिकंदराबाद की गाड़ियों को भी हावड़ा तक के लिए रद्द कर दिया गया है।

बता दें कि ये न सिर्फ ओडिशा के लिए बल्कि यूपी के लिए भी खतरनाक साबित हो सकता है। यूपी के कन्नौज सहित कई जिलों में हल्की से मध्यम वर्षा के साथ पूर्वी हवाएं 30 से 40 किलाेमीटर चलने की अत्यधिक संभावना बताई गई है। किसानाें और भंडार गृहों को मौसम विभाग की ओर से जारी चेतावनी में कहा गया है नमी व तेज हवा से फसल के होने वाले नुकसान से बचनाने के लिए कटी फसल, खुले में रखे अनाज, एवं खेतों में तैयार खड़ी फसल को काटकर सुरक्षित रखने की समुचित व्यवस्था कर लें। पिछले चार दिनों से अधिकतम तापमान 40 डिग्री से ऊपर चल रहा है।

मंगलवार को तापमान ने पिछले आठ वर्षों का रिकार्ड तोड़ दिया। अधिकतम तापमान 43.6 डिग्री सेल्सियस जा पहुंचा। सन 2010 में तापमान 44 डिग्री पार कर गया था। इसके बाद अब तापमान अप्रैल में 43 के पार पहुंचा है। मौसम विभाग के अनुसार राहत देने वाली बात यह है कि अगले 36 घंटे के बाद मौसम में तब्दीली हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार अरब सागर से उठे फैनी नामक चक्रवात का असर उप्र के अधिकांश क्षेत्रों में पड़ने वाला है।

तूफान का सीधा असर वैसे उड़ीसा और इसके तटीय इलाकों में पड़ेगा, इसकी वजह से दिल्ली में तेज हवाएं और हल्की बारिश की संभावना है। फैनी नामक चक्रवात पिछले कुछ दिनों से अरब सागर से सटे इलाकों में तूफान और बारिश लेकर आ रहा है। इसी तरह की स्थिति कानपुर और उसके आसपास के क्षेत्रों होने की संभावना है। जिससे तापमान में पांच से छह डिग्री सेल्सियस की कमी आएगी। दो मई से लेकर करीब पांच मई तक मौसम ठीक रहने की संभावना है। रात के तापमान में भी कमी आएगी। इस बीच मंगलवार को चमड़ी झुलसाने वाली गर्मी ने दोपहर के समय सड़कों पर सन्नाटे जैसी स्थिति पैदा कर दी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper