फिर विवादों में घिरे कपिल शर्मा, दर्ज हुआ FIR

कपिल शर्मा से जुड़ा एक नया विवाद सामने आया है। लग रहा है जैसे उनके लिए मुश्किल दौर ख़त्म होने का नाम ही नहीं ले रहा। आइये आपको ताजा मामला विस्तार से बताते है… कॉमेडी शो में कपिल शर्मा की ओर से भगवान श्री चित्रगुप्त का मजाक उड़ाने पर, अखिल भारतीय कायस्थ महासभा ने विरोध किया है और चेतावनी दी है कि अगर कपिल शर्मा ने ऑन-एयर कायस्थ समाज से माफी नहीं मांगी, तो उनके शो का बहिष्कार किया जाएगा।

अखिल भारतीय कायस्थ महासभा के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद प्रसाद के निर्देश पर, महासभा ने राष्ट्रीय स्तर पर कपिल शर्मा के खिलाफ एक अभियान शुरू किया है। महासभा के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष राजीव रंजन प्रसाद ने अपने देवता के अपमान के विरोध में देश और विदेश में रहने वाले कायस्थ समाज के सदस्यों से सोनी चैनल का बहिष्कार करने की अपील की है।

हालांकि, सोनी चैनल ने अपने संग्रह से 28 मार्च को प्रसारित होने वाले कपिल शर्मा शो के उस एपिसोड को हटा दिया है। लेकिन महासभा के राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष ने कहा है कि अगर कपिल शर्मा अपने अगले एपिसोड में सार्वजनिक रूप से माफी नहीं मांगते हैं, तो महासभा कपिल शर्मा के खिलाफ अलग-अलग जगहों की अदालतों में कोरोना लॉकडाउन खत्म होने के बाद मुकदमा दायर करेगी। इस कड़ी में उत्तराखंड महासभा की स्थानीय इकाई ने कपिल शर्मा के खिलाफ मुकदमा दायर (FIR) कर भी दिया हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper