फेसबुक के जरिए एक शख्स ने ढूंढ लीं अपनी भैंसें

बेंगलुरु: अभी तक उत्तर प्रदेश पुलिस के नाम भैंसों को तलाशने का खिताब दर्ज था, क्योंकि उसने समाजवादी नेता आजम खान की भैंसें खोज ली थीं। लेकिन अब फेसबुक के जरिए भी एक शख्स अपनी भैंसें खोज ली हैं। बेंगलुरु के होसकोटे के इस्तुरु गांव में सोमवार शाम खो गईं भैंसें अपने मालिक के घर में वापस पहुंच गईं। यह भैंसें चरते हुए गांव से तकरीबन 10 किलोमीटर दूर निकल गईं थीं।

भैंसों के मालिक नारायण स्वामी ने उन्हें गांव और खेतों में भी तलाशा, मगर वे नहीं मिलीं। भैंसें चरते हुए कोद्रहल्ली गांव पहुंच गईं। यह इस्तुरु गांव से करीब 10 किलोमीटर दूर है। दो दिनों के बाद मालिक को उसकी भैंसें फेसबुक वॉल पर दिखीं। इसके बाद उसने फेसबुक के जरिए उस शख्स से संपर्क किया, जिसने उसकी भैंसों की तस्वीर पोस्ट की थी। इसके बाद वह अपनी भैंसों को घर ले आया। नारायण की दो भैंसों को कोद्रहल्ली गांव के रहने वाले मोहन ने पकड़ लिया था, जिसके बाद उसने भैंसों को उनके मालिक को वापस करने की ठान ली। मोहन ने भैंसों की तस्वीर फेसबुक पर अपलोड कर दी।

उन्होंने तस्वीर में यह कैप्शन दिया ‘ये भैंसें किसकी हैं? शेयर कीजिए और इन्हें इनके मालिक तक पहुंचाइए।’ दो दिनों के बाद नारायण को उसकी भैंसें वापस मिल गईं। इसके बाद फेसबुक का इस तरह से इस्तेमाल और इसके फायदे चर्चा का विषय बने हुए हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper