फेसबुक पर अंजान विदेशी गोरी से दोस्ती में गंवाए 27.51 लाख

लखनऊ: फेसबुक पर अंजान विदेशी गोरी से दोस्ती करना रियल इस्टेट कारोबारी को महंगा पड़ गया। गोरी ने पहले फ्रेंड रिक्वेस्ट भेजकर दोस्ती की और फिर चैटिंग कर फंसाया। झांसा दिया कि वह डेढ़ लाख यूएस डॉलर बतौर गिफ्ट लेकर आ रही है। उसके बाद जालसाजों ने खुद को मुम्बई कस्टम अधिकारी बताकर डॉलर खाते में भेजने के नाम पर 27.51 लाख रुपये कई खातों में जमा करा लिए। ठगी का एहसास होने पर पीड़ित ने बैंक में शिकायत के साथ ही मोहनलालगंज कोतवाली में रिपोर्ट दर्ज करायी है।

गढ़ी चुनौटी बंथरा निवासी राहुल सिंह चौहान रियल इस्टेट कारोबारी हैं। उनका कहना है कि करीब तीन माह पहले उनके फेसबुक एकाउण्ट पर ‘‘रोज जोन्स’ नामक विदेशी महिला की फ्रेंड रिक्वेस्ट आयी। प्रोफाइल पर विदेशी महिला की फोटो देख उन्होंने रिक्वेस्ट एक्सेप्ट कर ली। उसके बाद राहुल की विदेशी महिला से मैसेंजर पर चैटिंग होने लगी। बाद में उन्होंने नम्बर एक्सचेंज भी कर लिए। राहुल का कहना है कि जून में विदेशी गोरी ने कहा कि वह जल्द ही भारत आ रही हैं और उसे 1.50 लाख यूएस डॉलर गिफ्ट करेंगी।

उसका कहना है कि उसने अतिथि देवो भव: बोला लेकिन डॉलर लेने से मना कर दिया। विदेशी के बार-बार कहने पर वे शांत हो गये। 5 जून को उनके पास एक कॉल आयी। फोन के पीछे मौजूद शख्स ने खुद को मुम्बई एयरपोर्ट का कस्टम अधिकारी बताया और कहा कि आपकी दोस्त रोज जोन्स बिना किसी सूचना के भारत आयी हैं। परमिशन न होने पर उन्हें रोक लिया गया है। विदेशी के पास डेढ़ लाख डॉलर की डीडी है।

आप जुर्माने के तौर पर 35 हजार रुपये जमा कर दीजिए। उसके बाद डीडी की रकम स्टैण्डर्ड चार्टेड बैंक से आप के खाते में ट्रांसफर कर दी जाएगी। लालच में राहुल ने उक्त रकम दिये गये खाते में जमा कर दी। राहुल का कहना है कि उसके बाद उनके एक माह के अंदर अलग-अलग डीडी चार्ज के नाम पर कई खातों में 27.51 लाख रुपये जमा करा लिए गये। डेढ़ लाख यूएस डॉलर न आने पर वे इलाहाबाद बैंक पहुंचे।

जानकारी की तो पता चला कि उन्हें विदेशी गोरी ने डॉलर का लालच देकर ठगा है। यह सुनकर राहुल के होश उड़ गये। वे शिकायत लेकर मोहनलालगंज कोतवाली पहुंचे। उन्होंने आपबीती पुलिस को बतायी। इंस्पेक्टर धीरेन्द्र प्रताप कुशवाहा का कहना है कि कारोबारी की तहरीर पर रोज जोन्स व अज्ञात के खिलाफ धोखाधड़ी समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर ली गयी है। साइबर क्राइम सेल की मदद मांगी गयी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper