फोकस टेस्टिंग पर जोर, बाहरी लोगों के स्वास्थ्य पर हो नजर : योगी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड-19 की फोकस टेस्टिंग किये जाने पर बल दिया है। उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमण की चेन को तोडऩे में टेस्टिंग कार्य की महत्वपूर्ण भूमिका है। इसे ध्यान में रखकर अधिक से अधिक टेस्ट किये जाएं। यह सुनिश्चित किया जाए कि प्रदेश में प्रतिदिन 01 लाख 25 हजार से कम टेस्ट न हों। योगी ने शुक्रवार को उच्चस्तरीय बैठक में अनलॉक व्यवस्था की समीक्षा करते हुये कहा कि कुछ राज्यों में कोरोना के मामलों में हो रही बढ़ोत्तरी के मद्देनजर प्रदेश में अतिरिक्त सतर्कता बरती जाए।

उत्तर प्रदेश में बाहरी राज्यों से आ रहे लोगों की कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग एवं क्वारंटीन की आवश्यकतानुसार व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। उन्होने कहा कि कोरोना से बचाव तथा उपचार के सम्बन्ध में प्रभावी व्यवस्था बनाये रखी जाये। जिलों में स्थापित इन्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कन्ट्रोल सेन्टर को पूरी सक्रियता से संचालित किया जाये। कोरोना से बचाव के सम्बन्ध मे लोगों को निरन्तर जागरूक किया जाये। उन्होंने इस कार्य में विभिन्न प्रचार माध्यमों के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भी उपयोग किये जाने के निर्देश दिये हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper