बच्चों के फ्यूचर प्लानिंग के लिए ये 3 स्कीम्स हैं अधिक फायदेमंद, मिलेंगे लाखों रुपए

नई दिल्ली। हर पैरेंट्स चाहते हैं कि उनके बच्चे का भविष्य सिक्योर हो। इसके लिए वे उनके जन्म के बाद से ही कई तरह की स्कीमों में इंवेस्ट (Investment Schemes For Children) करना शुरू कर देते हैं। यही प्लानिंग आगे जाकर बच्चों की पढ़ाई और शादी में काम आती है। अगर आप भी ऐसे ही स्कीम्स में इंवेस्ट करने की सोच रहे हैं तो हम आपको तीन ऐसे शानदार प्लान के बारे में बताएंगे, जिनमें आप अच्छा रिटर्न पा सकते हैं। कुछ योजनाएं तो ऐसी भी हैं जिनके मैच्योरिटी पर लाखों रुपए तक मिल सकते हैं।

सुकन्या समृद्धि योजना

लड़कियों के उज्जवल भविष्य के लिए डाकखाने की सुकन्या समृद्धि योजना (Sukanya Smaridhi Yojana) काफी पॉपुलर है। इस स्कीम में बेटी की शिक्षा से लेकर शादी तक में मदद मिलती है। योजना की खासियत यह है कि इसकी मेच्योरिटी 21 साल है। जबकि निवेश महज 14 साल के लिए ही करना होता है। योजना में अधिकतम 1.50 लाख रुपए सालाना जमा कर सकते हैं। अगर आप मंथली जमा करते हैं तो आपको हर महीने 12500 रुपए देने होंगे। वहीं न्यूनतम राशि 250 है। आवेदन के लिए बेटी की उम्र 10 साल से कम होनी चाहिए। इसमें बेटी की उम्र 18 साल होने पर उसकी पढ़ाई या शादी के लिए जमा रकम का 50 प्रतिशत हिस्सा निकाल सकते हैं। ये अकाउंट माता—पिता के साथ ज्वाइंट में खुलता है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत अगर आप सालाना 1.5 लाख रुपए 14 साल तक जमा करते हैं तो कुल निवेश रकम 21 लाख रुपए का होगा। इस पर 7.6 फीसदी सालाना ब्याज भी लगता रहेगा। इसका मतलब यह है कि जब आप मैच्योरिटी पर रकम हासिल करेंगे वह लगभग 63 लाख रुपए होगा।

पब्लिक प्रॉविडेंट फंड

बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए इस स्कीम में निवेश किया जा सकता है। पीपीएफ (Public Provident Fund) में 7.1 प्रतिशत तक का ब्याज मिलता है। निवेश के हिसाब से ये काफी सुरक्षित माना जाता है। पीपीएफ की मैच्योरिटी अवधि 15 वर्ष है। हालांकि इसे 5-5 साल की अवधि में आगे बढ़ाया जा सकता है। इसके विस्तार के लिए फॉर्म-एच जमा करना होगा। इसका रिटर्न पूरी तरह से टैक्स फ्री है। पीपीएफ खाता 18 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए खुलवाया जा सकता है। इसमें पैरेंट्स के साथ ज्वाइंट में खाता खुलेगा। अगर आपके दो बच्चे हैं तो अलग-अलग पीपीएफ खाता खोलकर 3 लाख रुपए तक का निवेश किया जा सकता है। क्योंकि डेढ़ लाख रुपए तक के निवेश पर टैक्स नहीं लगता है।

सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP)

अन्य निवेश विकल्प के मुकाबले लॉन्ट टर्म में ज्यादा रिटर्न मिलने की संभावना रहती है। चूंकि बच्चों की पढ़ाई और शादी में काफी समय लगता है इसलिए आप सिस्टेमैटिक इन्वेस्टमेंट प्लान (SIP) के में निवेश कर सकते हैं। इसमें किश्तें भी सस्ती रहती हैं। इससे आप हर महीने छोटे—से निवेश से लाखों रुपए बना सकते हैं। बच्चे की जरूरत के अनुसार आप इसे 10 से 15 साल के लिए इंवेस्ट कर सकते हैं। अच्छी कंपनी में निवेश करने पर मुनाफा दोगुना होने की संभावना रहती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper