बच्चों ने घर बैठे दी सामाजिक थीम पर अपनी प्रस्तुतियां

लखनऊ। देशभर में कोरोनावायरस के कारण सभी सांस्कृतिक कार्यक्रम बंद हो रखे हैं लेकिन सामाजिक सद्भाव एवं कलाओं को मंच देने का प्रयास कई संस्थाएं कर रही हैं उसी कड़ी में अंजली फिल्म प्रोडक्शन एवं सीटीसीएस फैमिली एनजीओ ने डिजिटल सामाजिक जागरूकता उत्सव का प्रारूप बनाया जिसका बुधवार को शुभारंभ किया गया इसमें बच्चों ने घर बैठे ही विभिन्न प्रकार के सामाजिक थीम पर अपनी प्रस्तुतियां अंजली फ़िल्म प्रोडक्शन के फेसबुक पेज पर दी। डिजिटल सामाजिक जागरूकता उत्सव में ऑनलाइन मंच संचालन आनंद किशोर चौधरी के द्वारा किया जा रहा है।

डिजिटल उत्सव जागरूकता अभियान में पहली प्रस्तुति के रूप में रिज़ा सिद्दकी ने प्यार करो न ज़िक्र करो न मदद करो न से शुरुआत की,इसके बाद नमस्ते नमस्ते हाथ जोड़ो तुम करो न नमस्ते पर नृत्य करके फिजिकल डिस्टनसिंग का अनुरोध किया। इसी के साथ रिज़ा ने तम्बाकू सेवन न करने का उद्देश्य बताते हुए पान मसाला तम्बाकू जो खाओगे तुम,जीवन अपना नष्ट करोगे पछताओगे तुम पर गीत भी गाया। 45 मिनट तक रिज़ा ने विभिन्न कोरोना एवं तम्बाकू निषेध अभियान पर प्रस्तुतियां दी। 17 वर्षीय इशांक श्रीवास्तव ने बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ थीम पर लिरिकल म्यूजिक पर डांस एवं एक्ट के माध्यम से बेटियों के शिक्षा स्वास्थ्य एवं सुरक्षा पर ध्यान देने का आवाहन किया।

नौ वर्ष की नव्या वार्ष्णेय ने पीएम नरेंद्र मोदी के स्वच्छ भारत अभियान के अंतर्गत स्वच्छता अभियान पर अपनी प्रस्तुति स्वच्छता की जोत जागी रे के माध्यम से दी। खुशी सोनकर ने देशभक्ति गीतों पर अपनी प्रस्तुति के माध्यम से दर्शकों में देश के प्रति सम्मान एवं उत्साह भरने का प्रयास किया। 9 वर्ष की इशिका श्रीवास्तव ने वेस्टर्न गानों पर कथक के माध्यम से पर्यावरण संरक्षण पर ज़ोर दिया,इशिका ने गिव मी सम सन शाइन,आओ मिलकर वृक्ष लगाए,फूलों ने पूछा तारो से,एवं चुचु करती आई चिड़िया जैसे गीतों पर कथक के माध्यम से दर्शकों से पर्यावरण एवं वृक्षो के संरक्षण पर ज़ोर दिया इसी के साथ हिंदी एवं अंग्रेजी में पर्यावरण पर कविता भी प्रस्तुत की।

गुजरात से मोडासा शहर से शिवानी एन चौहान ने जीना यहां मरना यहां इसके सिवा जाना कहां गीत पर एक्ट और नृत्य के माध्यम से भाईचारा एवं एकता का संदेश दिया। आज के कार्यक्रम के समापन में होस्ट आनंद किशोर चौधरी द्वारा लाइव मैजिक शो भी किया गया। डिजिटल उत्सव की कार्यक्रम प्रभारी अर्चना पाल ने बताया की इस कार्यक्रम में कल भी दोपहर एक बजे से लेकर शाम चार बजे तक विभिन्न सामाजिक थीम पर प्रस्तुति की जाएंगी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper