बढ़ी ताकत के साथ फिर मोदी राज

लोकसभा चुनाव में लगातार दूसरी बार पूर्ण जनादेश हासिल करने वाली भाजपा नीत एनडीए की दूसरी पारी की शुरुआत गुरुवार को हो गई। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह संपन्न हुआ। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने प्रधानमंत्री मोदी सहित 58 मंत्रियों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। बता दें कि इस बार भाजपा नीत एनडीए ने चुनाव में 382 सीटों पर जीत दर्ज की हैं। इनमें भाजपा पूर्ण बहुमत हासिल कर 303 सीटों पर जीती है।
शपथ ग्रहण समारोह में सबसे पहले नरेंद्र मोदी ने प्रधानमंत्री पद की शपथ ली। उनके बाद भाजपा के वरिष्ठ नेता राजनाथ सिंह ने शपथ ग्रहण की। उन्हें पुन: गृह मंत्री बनाए जाने की अटकलें हैं। इसके बाद अमित शाह, नितिन गडकरी एवं अन्य नेताओं ने मंत्री पद की शपथ ली। मोदी मंत्रिमंडल में महिलाओं को भी स्थान दिया गया। इनमें निर्मला सीतारमण, स्मृति ईरानी, हरसिमरत जीत कौर सहित कुल छह महिला मंत्रिमंडल में शामिल हैं। मोदी की इस दूसरी पारी के कैबिनेट में अनुभव के साथ ही युवा शक्ति का संतुलन बनाया गया है।
उल्लेखनीय है कि यह भारत में जवाहलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद पूर्ण बहुमत की दूसरी गैर कांग्रेसी सरकार है। इससे पहले मोदी के नेतृत्व में ही 2014 में भाजपा ने पूर्ण बहुमत की सरकार बनी थी।
25 कैबिनेट मंत्री
मोदी मंत्रिमंडल में शामिल 58 मंत्रियों में 25 कैबिनेट मंत्रियों ने शपथ ली है। इसके अलावा 9 मंत्रियों को स्वतंत्र प्रभार दिया गया है, जबकि 24 मंत्रियों को राज्यमंत्री बनाया गया है। मोदी मंत्रिमंडल में छह महिलाओं को भी मंत्री बनाया गया है।
मप्र से चार मंत्री, महाकौशल से पटेल
नरेंद्र सिंह तोमर, फग्गन सिंह कुलस्ते और थावरचंद गहलोत के अलावा मोदी मंत्रिमंडल में मप्र से प्रहलाद पटेल को शामिल किया गया है। मोदी मंत्रिमंडल में अब मप्र से 4 मंत्री हो गए हैं। उल्लेखनीय है कि महाकौशल से पटेल को मौका दिया गया है। इस क्षेत्र से भाजपा हमेशा ही अच्छा प्रदर्शन करती आई है। अटल बिहारी वाजपेयी के नेतृत्व वाली सरकार में भी पटेल मंत्री रहे हैं।
जेडीयू मंत्रिमंडल से बाहर
जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने मोदी मंत्रिमंडल में शामिल होने से इंकार कर दिया है। जेडीयू प्रमुख नीतीश कुमार ने कहा कि मंत्रिमंडल में हमारे केवल एक ही सांसद को मंत्री पद दिया जा रहा था। हमें यह स्वीकार नहीं है। इसके साथ ही मोदी मंत्रिमंडल से जेडीयू बाहर हो गया है।
मोदी और शाह के साथ बैठकें
सांसदों को मंत्रिमंडल में शामिल किए जाने को लेकर पिछले तीन दिनों से लगातार बैठकों का दौर जारी है। मोदी और शाह इसके लिए मंगलवार से बैठक कर रहे हैं। गुरुवार को मोदी ने भावी मंत्रियों के साथ चाय पर चर्चा की। इसमें एनडीए के सहयोगी दलों से शामिल होने वाले मंत्री भी थे। फाइनल चर्चा 90 मिनट पीएम मोदी के आवास पर गुरुवार को होती रही। इससे पहले भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भावी मंत्रियों को फोन कर चर्चा की।
वरिष्ठ नेता हुए बाहर
मोदी के दूसरे कार्यकाल में वरिष्ठ नेताओं को बाहर का रास्ता दिखा दिया गया है। इनमें वित्त मंत्री रहे अरुण जेटली, सुषमा स्वराज सहित कुछ नेताओं को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया। एनडीए का प्रमुख घटक दल जेडीयू को भी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किया गया है। ऐसी चर्चा है कि मंत्रिमंडल विस्तार में उन्हें मौका दिया जा सकता है।
मनमोहन, सोनिया, राहुल भी रहे उपस्थित
शपथ ग्रहण समारोह में विपक्षी दल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांगे्रस अध्यक्ष राहुल गांधी, गुलाम नबी आजाद सहित कई नेता मौजूद रहे।
आठ देशों के राष्ट्राध्यक्ष भी रहे शामिल
मोदी के दूसरे शपथ ग्रहण समारोह में आठ देशों के राष्ट्राध्यक्ष शामिल रहे। बिम्सटेक देशों में शामिल म्यांमार, श्रीलंका, थाईलैंड, नेपाल, बांग्लादेश और भूटान के राष्ट्राध्यक्ष शामिल हैं। भारत ने किर्गिस्तान के राष्ट्रपति और मॉरीशस के प्रधानमंत्री ने भी समारोह में शिरकत की। पाकिस्तान को आमंत्रित नहीं किया गया है।
बॉलीवुड कलाकार भी हुए शामिल
बॉलीवुड के कुछ खास कलाकारों और विशिष्ट नागरिकों को भी समारोह में आमंत्रित किया गया था। इनमें दक्षिण के सुपर स्टार रजनीकांत, अनुपम खेर, विवेक ओबरॉय, अनिल कपूर, निर्देशक करण जौहर, रणबीर कपूर, आलिया भट्ट और कंगना रणौत एवं अन्य शामिल रहे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper