बर्फीली हवाओं से ठिठुरे दिल्ली वाले, ठंड का 3 डिग्री वाला ‘टॉर्चर’!, माइनस में पहुंचा राजस्थान

नई दिल्ली: दिल्ली में पारा लगातार गिरता जा रहा है. मौसम विभाग ने माना है कि दिल्ली इस वक्त शीतलहर की चपेट में है. वहीं, ऐसा अनुमान है कि महीने के अंत तक दिल्ली को 2 डिग्री का टॉर्चर भी झेलना पड़ सकता है. पहाड़ों पर हुई जोरदार बर्फबारी से मैदानी इलाकों में पाला पड़ रहा है. दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में बफीर्ली हवाओं से पारा लुढ़क कर 3 डिग्री पहुंच गया है. पूरा उत्तर भारत शीतलहर की चपेट में है. दिल्ली में शुक्रवार की सुबह का तापमान 3 डिग्री के आसपास दर्ज किया गया. लगातार गिर रहे तापमान और शीत लहर के कारण आने वाले दिनों के लिए मौसम विभाग ने ऑरेंज अलर्ट जारी किया है.

हिंदुस्तान के पहाड़ जम चुके हैं. नदी-नाले ठंड से ठहर गए हैं. पहाड़ों पर माइनस डिग्री के टॉर्चर से देश के कई राज्यों में लोगों की परेशानी एकाएक बढ़ गई है. दिल्ली-एनसीआर में आज दर्ज न्यूनतम तापमान 3.5 डिग्री था. दिल्ली में ये इस मौसम का सबसे कम तापमान था. वहीं इसने 10 साल का रिकॉड भी तोड़ दिया. इससे पहले 2011 में 16 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 5 डिग्री था.

इस बीच मौसम विभाग की चेतावनी ने दिल्ली वासियों की टेंशन और बढ़ा दी है. विभाग की तरफ से चेतावनी दी गई है कि दिल्ली पर ठंड का टॉर्चर तो अभी बस शुरू ही हुआ है. उसके मुताबिक शुक्रवार को दिल्ली में दिन में भी जबरदस्त ठंड होगी और शीतलहर चलेगी. अभी आधा दिसंबर ही बीता है. लेकिन जिस हिसाब से तापमान गिर रहा है उससे पारा कहीं शून्य के करीब न चला जाए.

दिसंबर में दिल्ली की सर्दी के रिकॉर्ड की बात करें तो पिछले साल 28 दिसम्बर को पारा 2.4 डिग्री तक पहुंच गया था, साल 2013 में भी 23 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 2.4 डिग्री रिकॉर्ड किया गया था. यूं तो साल 2014 और 2018 में भी दिसंबर के महीने में पारा 3 डिग्री से नीचे जा चुका है. लेकिन इस बार ठंड जिस हिसाब से पड़ रही है, अनुमान ये भी लगाया जा रहा है कि दिसंबर के आखिरी हफ्ते में तापमान 2 डिग्री से भी नीचे जा सकता है.

इस बार पहाड़ों पर भी नवंबर महीने में ही बर्फबारी शुरू हो गई थी. वहीं 12 दिसंबर को जबरदस्त बर्फबारी हुई है. वहां से चल रही बर्फीली हवाएं दिल्ली को जमा देने पर तुली हैं. हिमाचल प्रदेश में केलांग, मनाली और कल्पा में पिछले 24 घंटों में तापमान शून्य से नीचे दर्ज किए जाने के साथ शीत लहर की स्थिति बनी रही. मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि पहाड़ी राज्य में मौसम शुष्क बना हुआ है, लेकिन न्यूनतम तापमान में एक से दो डिग्री तक की कमी आई है. मौसम विभाग के मुताबिक लाहौल-स्पीति का प्रशासनिक केंद्र केलांग शून्य से 8 डिग्री सेल्सियस कम तापमान के साथ राज्य का सबसे ठंडा स्थान बना रहा.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper