बसपा कार्यकर्ता अपने घरों में ही मनायें अम्बेडकर जयंती: मायावती

लखनऊ: बहुजन समाज पार्टी की मुखिया एवं पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने पार्टी कार्यकर्ता से आगामी 14 अप्रैल को लॉकडाउन का पालन कर अपने घरों में ही मनायें अम्बेडकर जयंती मनाने की अपील करते हुए रविवार को कहा कि वे कोरोना महामारी के दौरान भी अम्बेडकर के अनुयायियों के उत्पीड़न पर भी चिंतन करें।

बसपा नेत्री मायावती ने किये गये सिलसिलेवार ट्वीट में अम्बेडकर के अनुयायियों और बसपा कार्यकर्ताओं से कहा कि वर्तमान में कोरोना महामारी के चलते सभी से अपील है कि सरकारी पाबन्दियों का सख्ती से अनुपालन करते हुए, अपनी रगों में बसने वाले बाबा साहेब डाक्टर अम्बेडकर की जयन्ती को अपने-अपने घरों में ही मनायें। यही बेहतर होगा।

उन्होंने यह भी कहा कि साथ ही, इनके अनुयायियों की इस महामारी के दौरान भी हो रही दयनीय स्थिति और उत्पीड़न के बारे में भी तथा इससे मुक्ति पाने के लिए भी इन्हें जरूर गम्भीरता से चिन्तन करना चाहिये। इस मौके पर मेरी इनको यह भी खास सलाह है।

बसपा नेत्री मायावती ने कहा कि मानवतावादी सोच, कर्म व आजीवन कड़ा संघर्षध्त्याग की प्रतिमूर्ति व देश को अनुपम समतामूलक संविधान देनेे वाले परमपूज्य बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर उनके अनुयायियों और खासकर बसपा के लोगों के लिए हर मायने में प्रेरक, कर्म और धर्म भी हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper