बहुत ही कम खर्च में शुरू करें यह बिजनेस,हर महीने होगी लाखों रुपए की कमाई,जाने कैसे

नई दिल्ली: कोरोनावायरस का प्रकोप तो खत्म हो गया है लेकिन कोरोनावायरस के कारण जिन लोगों की नौकरी आ गई है उनके घर में अब समस्या खड़ी हो गई है. आपको बता दें कि को गेट के सामने कई लोगों की नौकरियां चली गई और ऐसे में अब इन लोगों के सामने रोजगार की समस्या खड़ी हो गई है.

आपके सामने भी अगर किसी तरह की समस्या है और आप घर पर ही रह कर अच्छी कमाई करना चाहते हैं, तो यह खबर आपके लिए कारगर साबित हो सकती है. आपको बता दें कि हम आपको आज एक ऐसे बिजनेस आइडिया के बारे में बताने वाले हैं जिसके बारे में जानकर आप खुश हो जाएंगे.

इस कारोबार को 5-9 लाख रुपये में शुरू किया जा सकता है। आपको बता दें कि आप अगर एक छोटे से स्तर यानी 1500 मुर्गी के साथ फार्मिंग शुरू करेंगे तो आप हर महीने 50000 से लेकर ₹100000 तक कमा सकते हैं. पोल्ट्री फार्मिंग के लिए सबसे पहले आपको एक सही जगह चुनना होगा और उसके बाद आपको पांच से ₹600000 इसे बनाने में लगाने होंगे।

1500 मुर्गियों के लक्ष्य से काम शुरू करना हो तो 10 प्रतिशत ज्यादा चूज़े खरीदने होंगे। बता दें कि इस कारोबार में आपको अंडे से भी होगी जबरदस्त कमाई होगी। आपको बता दें कि ठंड हो या गर्मी भारत में अंडों का मांग हमेशा बना रहता है और ऐसे में कमाई की संभावना अधिक होती है।

मुर्गियां खरीदने के लिए 50 हजार रुपये का बजट रखना होगा। अब इन्हें पालने के लिए अलग-अलग तरह का खाना खिलाना पड़ता है और साथ ही मेडिकेशन पर भी खर्च करना पड़ता है।

आपको बता दें कि इस बिजनेस में आपको साल भर की कमाई होगी और साथ ही साथ अच्छी कमाई भी होगी। आपको बता दें कि भारत के साथ साथ अन्य देशों में भी मुर्गी के अंडों की मांग बनी रहती है और साथ ही साथ मुर्गी की मांग भी बनी रहती है। आज के समय में एक अंडे की कीमत ₹12 हो गई है ऐसे में आप अच्छी कमाई कर सकते हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper