बाबा साहब एवं महावीर जी की जयंती व बैसाखी के साथ जलियांवाला बाग कांड के वीर शहीदों को भी एसकेडी एकेडमी के बच्चों ने याद एवं नमन किया

लखनऊ: आज एसकेडी एकेडमी की सभी शाखाओं में बच्चों ने कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया एवं विशेष एसेम्बली का आयोजन हुआ। आज 13 अप्रैल को वैसाखी के पर्व के बारे में बच्चों को बताया गया एवं उसके उद्देश्य व सार्थकता से बच्चों को अवगत कराया। 14 अपैल को बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर जी की जयंती मनायी जाती है उसके सम्बन्ध में उनको श्रद्धा सुमन सभी ने अर्पित किये।

13 अप्रैल 1919 में जलियांवाला बाग कांड हुआ था उनकी स्मृति में अमर शहीदों को याद किया व श्रद्धाँजलि दी गई। साथ ही 14 अप्रैल को मनाई जाने वाली महावीर जयंती के बारे में भी चर्चा हुई। इस अवसर पर संस्था के निदेशक श्री मनीष सिंह जी ने बाबा साहेब डॉ0 भीमराव जयंती एवं महावीर जयंती की बधाई देते हुये श्रद्धाजली दी।

उन्होने कहा कि भगवान महावीर जी की जयंती हम हिंदू तिथि में चैत्र महीने के 13 वें दिन यानी चैत्र शुक्ल त्रयोदशी को जैन दिगंबर और श्वेतांबर एक साथ मिलकर इस उत्सव को मनाते हैं। इस जयंती को महावीर जन कल्याणक नाम से भी जाना जाता है। डॉ0 भीमराव अम्बेडकर जी के लिये कहा कि उनके अनमोल वचन जो हर युवा के लिये प्रेरणा हैं। उन अनमोल विचारों के बारे में जानकर उन्हें अपने जीवन में उतारें।

साथ ही बैसाखी पर्व की सबकों बधाई दी एवं 13 अपै्र्रल 1919 में जलियांवाला बाग कांड के शहीदों को नमन कियाा व श्रद्धा सुमन अर्पित कियें।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper