बिजनौर की बेटी ने यूपीएससी परीक्षा में प्रथम रैंक पाकर जिले का नाम रोशन किया

बिजनौर । उत्तर प्रदेश के बिजनौर जिले चांदपुर तहसील क्षेत्र के गांव बास्टा निवासी सुनील दत्त शर्मा की बेटी श्रुति शर्मा ने यूपीएससी परीक्षा में प्रथम रैंक प्राप्त कर जिले व प्रदेश नाम रोशन किया। श्रुति शर्मा का जन्म 1 मार्च 1997 को गांव में ही हुआ था। श्रुति शर्मा की शुरुआती शिक्षा दिल्ली के सरदार पटेल विद्यालय में हुई। यहीं से उन्होंने 12वीं की शिक्षा ग्रहण की। उसके बाद सेंट स्टीफन कॉलेज, दिल्ली यूनिवर्सिटी से इतिहास में बीए ऑनर्स डिग्री प्राप्त करने के बाद श्रुति ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से ही मॉडर्न हिस्ट्री में एमए मास्टर डिग्री को प्राप्त किया। उसके बाद जामिया मिलिया इस्लामिया में आवासीय एकेडमी आरसीए से कोचिंग ली। वर्ष 2021 में यूपीएससी की परीक्षा में शामिल हुई।

श्रुति के पिता सुनील दत्त शर्मा ने बताया कि पढ़ाई के साथ-साथ उन्हें कविता लेखन का भी शौक है। वह हिंदी और इंग्लिश दोनों माध्यम में कविता लिखती हैं। परिवार के लोगों ने भी उसका लगातार हौसला बढ़ाया है। श्रुति की माता रचना शर्मा गृहणी हैं। उन्होंने भी श्रुति शर्मा को आगे बढ़ने की राह दिखाई। यही वजह है कि श्रुति आज इस मुकाम पर पहुंची हैं। श्रुति से छोटा उनका भाई आदित्य है। इस समय वह अंडर 23 क्रिकेट में यूपी का प्रतिनिधित्व कर रहे हैं।

श्रुति शर्मा के पिता इंजीनियर होने के साथ-साथ बास्टा में बाल ज्ञान निकेतन के नाम से इंटर कॉलेज चलाते हैं। बीच-बीच में वह बास्टा स्थित मकान पर भी रुकते रहते हैं। यही नहीं, हाईस्कूल व इंटरमीडिएट के बच्चों को कैरियर के प्रति सजग करने के लिए श्रुति शर्मा को माध्यम बनाया। सुनील दत्त शर्मा ने बताया कि श्रुति पिछले दो वर्षो से समय निकालकर बास्टा पहुंचीं और हाईस्कल व इंटरमीडिएट के बच्चों को भविष्य चुनने की राह दिखाती रही हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper