बिहार में आजतक किसी सीएम का बेटा सीएम नहीं बना, यह ख्वाब न देखें तेजस्‍वी : साधु यादव

पटना: पूर्व सांसद और लालू प्रसाद यादव के साले साधु यादव ने अपने भांजे तेजस्‍वी यादव को लेकर एक बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने कहा तेजस्‍वी मुख्‍यमंत्री बनने का सपना न देखें। साधु यादव ने बिहार के नेता प्रतिपक्ष को लेकर कहा कि उन्‍हें मुख्‍यमंत्री बनने का सपना नहीं देखना चाहिए। पूर्व सांसद ने कहा बिहार में आजतक किसी मुख्‍यमंत्री का बेटा मुख्यमंत्री नहीं बना, इसलिए तेजस्‍वी को यह ख्‍वाब नहीं देखना चाहिए।

साधु यादव पिछले कुछ दिनों से लालू परिवार और खासकर अपने भांजे को लेकर लगातार बयानबाजी कर रहे हैं। साधु यादव लालू परिवार के खिलाफ लगातार तीखे बोल बोल रहे हैं। उन्‍होंने तेजस्वी की बेरोजगारी यात्रा पर कहा कि रोजगार बांटना सरकार का काम है। बेरोजगारी यात्रा से बिहार के युवाओं को कोई फायदा नहीं मिलनेवाला है। यह कोई यात्रा नहीं है, बल्कि जमीन पर कब्जा करने के लिए भ्रमण कार्यक्रम है।

साधु यादव ने आरोप लगाया कि लालू प्रसाद यादव अब शक्तिविहीन हो चुके हैं। उनके परिवार वालों ने जनता को अंधकार में धकेला है, यह बात सब लोग समझ चुके हैं। साधु यादव के रवैये से लालू परिवार के साथ उनके तल्‍ख संबंध का पता चलता है। दरअसल, साधु यादव को भांजे तेजस्वी यादव की शादी में न्योता नहीं दिया गया था। इससे वह बेहद नाराज बताए जाते हैं।

साधु यादव की बयानबाजी से नाराज तेज प्रताप ने सोशल मीडिया के जरिए मामा साधु यादव के खिलाफ मोर्चा खोला तो पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के भाई और पूर्व सांसद साधु यादव ने अपने बहनोई लालू समेत पूरे परिवार की पोल पट्टी खोलना शुरू कर दी थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper