बीएड छात्रा की मौत को लेकर जांच कमेटी गठित, कुलपति को सौंपेगी रिपोर्ट

लखनऊ ब्यूरो। डॉ. शकुन्तला मिश्रा राष्ट्रीय पुनर्वास विश्वविद्यालय के हॉस्टल में छात्रा पारुल द्वारा फांसी लगाये जाने व लापरवाही बरतने वाले अधिकारी व कर्मचारियों के खिलाफ जांच बैठ गयी है। यहां जांच टीम एक सप्ताह के भीतर ही अपनी रिपोर्ट कुलपति को सौंपेगी, जिसके आधार पर कार्रवाई की जायेगी।

कुलपति प्रवीर कुमार के मुताबिक, देवरिया जिले के जगहटा भाटपार रानी गांव की निवासिनी पारुल विश्वविद्यालय के गर्ल्स हॉस्टल के द्वितीय तल कमरा नम्बर 219 में रहती थी। गुरुवार की देर शाम छात्रा के आत्महत्या की जानकारी पर सैकड़ों छात्र-छात्राएं इकठ्ठा हो गये। इसके बाद छात्र वीसी को बुलाने के लिए अड़े रहे। उन्होंने यह आरोप लगाया कि घटना के दौरान कोई भी अधिकारी वहां उपस्थित नहीं रहा। इसके अलावा प्रबंधन ने इलाज के लिए न ही अस्पताल ले जाने के लिए कोई भी वाहन की व्यवस्था की। छात्र-छात्राओं ने प्रबंधन पर लापरवाही का आरोप लगया था।

कुलपति का कहना है कि छात्र-छात्राओं द्वारा लगाये गये आरोप को गंभीरता से लिया गया है। छात्रा पारुल द्वारा आत्महत्या किये जाने के सम्बन्धी घटना में शिथिलता बरतने वाले अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए जांच टीम का गठन किया गया है। इस टीम में चार सदस्य होंगे। इसमें अध्यक्ष प्रोफेसर शेफाली यादव, सदस्य डा. अनमिका चौधरी डा. राजीव नयन पाण्डेय और प्रोफेसर विनोद कुमार सिंह है। यह जांच टीम एक सप्ताह के भीतर ही अपनी रिपोर्ट कुलपति को सौंपेगी, जिसके आधार पर लापरवाह अधिकारियों कर्मियों पर ठोस कार्रवाई की जायेगी। इसके साथ ही भविष्य में ऐसा न हो इसके लिए शिकायत प्रकोष्ठ का गठन किया जायेगा।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper