बीकेटी में किशोरी को बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म

लखनऊ: बख्शी का तालाब इलाके में घरवालों से नाराज होकर निकली किशोरी को परिचित साथियों संग उसे कुर्सी रोड स्थित एक निर्माणाधीन इमारत में ले गया, जहां उसे बंधक बनाकर चारों ने रातभर सामूहिक दुष्कर्म किया। अगले दिन परिचित ने किशोरी को पांचवें दोस्त के गुडम्बा स्थित घर में छोड़ दिया, जहां उसने भी दुष्कर्म किया। गुरुवार को पीड़िता किसी तरह भागकर घर पहुंची और आपबीती बतायी। शुक्रवार को पुलिस ने गैंगरेप समेत गंभीर धाराओं में रिपोर्ट दर्ज कर पांचों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया।

एसपी ग्रामीण डा. गौरव ग्रोवर ने बताया कि गिरफ्तार आरोपितों में परिचित कुलदीप गौतम निवासी झलौवा बीकेटी, रजनीश गौतम निवासी झलौवा गांव, जय सिंह निवासी ग्राम कोटवा, अनिल निवासी ग्राम मानपुरलाला बीकेटी व रवि शर्मा निवासी कस्बा रुदौली फैजाबाद हालपता गुडम्बा हैं। पांचों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।थाना क्षेत्र के एक गांव में 16 वर्षीय पीड़ित परिवार संग रहती है। बीते सोमवार को किशोरी घरवालों से नाराज होकर घर से चली गयी। घरवालों ने तलाश की लेकिन किशोरी का पता नहीं चला। बीते मंगलवार को परेशान परिजन थाने पहुंचे और शिकायत की। बीकेटी पुलिस ने मामले को गंभीरता से लेते हुए गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज की। इंस्पेक्टर अमरनाथ वर्मा ने बताया कि घर से निकलने के बाद किशोरी ने बीकेटी में रहने वाले दोस्त कुलदीप को फोन करके बुलाया।

कुलदीप ने किशोरी को आईआईएम पर रुकने को कहा। कुछ देर बाद कुलदीप कार से तीन दोस्तों जय सिंह, रजनीश व अनिल के साथ उससे मिलने आईआईएम पहुंचा। कुलदीप ने उसे बातों में फंसाकर कार में बैठाया और चल दिये। आरोप है वे लोग किशोरी को कुर्सी रोड स्थित एक निर्माणाधीन बिल्डिंग में ले गये। वहां चारों ने मिलकर बारी-बारी से उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। बीते मंगलवार को ही कुलदीप किशोरी को कार में बैठाकर गुडम्बा स्थित दोस्त रवि के कमरे पर लेकर गया। वहां वह उसे छोड़कर चला गया। पीड़िता का कहना है कि रवि ने पहले अश्लील हरकतें की। विरोध करने पर वह चुप हो गया लेकिन रात में उसने भी दुष्कर्म किया। बीते गुरुवार को किशोरी किसी तरह अपनी जान बचाकर वहां से भाग निकली। किसी तरह वह अपने घर बीकेटी पहुंची।

बेटी की हालत देख परिजनों ने बात की तो उसने आपबीती मां को बतायी। बेटी से सामूहिक दुष्कर्म की बात सुनकर परिवारवालों के पैरों तले जमीन खिसक गयी। शुक्रवार को परिजन बेटी को लेकर थाने पहुंचे और सारी बात बतायी। पुलिस ने उक्त मामले में सामूहिक दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट व एससी/एसटी एक्ट की रिपोर्ट दर्ज की। इंस्पेक्टर अमरनाथ वर्मा ने बताया कि पड़ताल के दौरान ही खबर मिली कि सामूहिक दुष्कर्म के पांचों आरोपितों कोटवा जाने वाले मार्ग पर रेलवे क्रासिंग पर मौजूद है। इस सूचना पर पुलिस ने पांचों आरोपितों को दबोच लिया। इंस्पेक्टर ने बताया कि पीड़िता को मेडिकल के लिए भेज दिया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper