बुलंदशहर हिंसा : योगी से मिला लखनऊ पहुंचा मृतक सुमित का परिवार

लखनऊ ब्यूरो। बुलंदशहर के स्याना कोतवाली क्षेत्र में हुए हिंसक घटना में मारे गए छात्र सुमित का परिवार मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। यहां पर मुख्यमंत्री से उनकी मुलाकात होगी। मुख्यमंत्री ने परिवार को हरसम्भव मदद का आश्वासन दिया। सुमित का परिवार एडीएम बुलंदशहर के साथ लोकभवन सुबह 11 बजे पहुंचा था। परिजनों में सुमित का भाई, माता-पिता और बहन शामिल थे।

सीएम से मुलाकात के बाद परिजनों ने कहा कि सुमित को शहीद का दर्जा मिले। इस दौरान परिवार ने आर्थिक सहायता की मांग भी की।बुलंदशहर हिंसा के चार और आरोपी गिरफ्तार, 3 दिसम्बर को इंस्पेक्टर और एक युवक की हुई थी मौत

मुख्यमंत्री योगी से बातचीत के दौरान माता-पिता को पेंशन देने की भी मांग परिवार की तरफ से उठाई गई। परिजनों ने कहा कि मुख्यमंत्री ने हमे आश्वासन दिया है कि जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी और दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

स्याना में गोवंश को लेकर हुए बवाल के बाद भड़की हिंसा में कोतवाल सुबोध सिंह व चिंगरावठी गांव का रहने वाला सुमित की मौत हुई थी। हत्यारोपियों की गिरफ्तारी के बाद ही बेटे का शव अंतिम संस्कार करने की बात परिवार ने की थी। लेकिन पुलिस प्रशासन व नेताओं के आश्वासन के बाद परिजनों ने अंतिम संस्कार किया था।

परिवार का आरोप था कि घटना के बाद पुलिस-प्रशासन ने सुमित के परिजनों की कोई सुध नहीं ली थी। सुमित के पिता अमरजीत सिंह की तहरीर पर छह दिन बाद पुलिस ने हत्या की रिपोर्ट दर्ज की थी। वहीं, सुमित के परिजन बार-बार न्याय की गुहार लगा रहे थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper