बेहद शुभ है इस बार की होली, दांपत्य जीवन को सुखमय बनाने के लिए पति पत्नी मिलकर करें ये उपाय

 


नई दिल्ली: होली (Holi) हर्ष और उल्लास का त्योहार है. इसे बुराई पर अच्छाई की जीत के तौर पर सेलिब्रेट किया जाता है. ज्योतिष विशेषज्ञों की नजर से देखें तो इस बार की होली बेहद शुभ है. 17 मार्च को होलिका दहन (Holika Dahan) के दिन ग्रह-नक्षत्रों की स्थिति होगी, जिनसे तीन राजयोगों (Rajyoga) का निर्माण हो रहा है.

होलिका दहन के दिन गुरु और चंद्र की युति से ‘गजकेसरी योग’, लग्न, पंचम और नवम भाव में ग्रहों के योग से ‘​वरिष्ठ योग’ और 7 ग्रहों के 4 राशियों में होने से ‘केदार योग’ का निर्माण हो रहा है. ज्योतिष विशेषज्ञ डॉ. अ​रविंद मिश्र की मानें तो इससे पहले ये दुर्लभ योग कभी नहीं बना. ये तीनों राजयोग बेहद शुभ होते हैं और मान-सम्मान, पारिवारिक सुख-समृद्धि, तरक्‍की और वैभव प्रदान करने वाले माने गए हैं.

जिन पति पत्नी के वैवाहिक जीवन में किसी तरह की परेशानी है, जो लोग लंबे समय से आर्थिक परेशानियां झेल रहे हैं, वे आज के दिन यदि कुछ विशेष उपाय कर सकते हैं. माना जाता है कि ऐसे शुभ समय में किए गए उपाय सफल हो जाते हैं. यहां जानिए कुछ उपायों के बारे में.

दांपत्य जीवन की मुश्किलें दूर करने के लिए
दांपत्य जीवन में लगातार मुश्किलों का सामना कर रहे हैं, तो आज होलिका दहन की रात को उत्तर दिशा में एक पटिए के ऊपर सफेद कपड़ा बिछाकर उस पर मूंग और चना दाल, चावल, गेहूं, मसूर, काला उड़द और तिल के ढेर से नवग्रह बनाएं. इन सभी का पूजन करें और केसर का तिलक लगाएं. इसके बाद दीपक जलाएं. महादेव और माता पार्वती का ध्यान करें और उनसे अपने जीवन की समस्या को समाप्त करने की प्रार्थना करें. इस उपाय को पति और पत्नी मिलकर करें. इससे धीरे धीरे आपके जीवन की समस्याएं दूर होने लगेंगी.

वैवाहिक जीवन को सुखमय बनाने के लिए
वैवाहिक जीवन को सुखद बनाना चाहते हैं तो आज के दिन एक सूखा नारियल लेकर उसमें चीनी भर दें. इसे पति अपने हाथ में लेकर अपने और पत्नी के सिर से 7 बार वार दें. इसके बाद इस नारियल को होलिका की अग्नि में डाल दे. इसके बाद पति और पत्नी मिलकर होलिका की 7 बार परिक्रमा करें. इससे आपके वैवाहिक जीवन के दुख कट जाएंगे और जीवन में सुख-शांति और संपन्नता आएगी.

आर्थिक संकट दूर करने के लिए
अगर आपके घर में आर्थिक संकट तमाम प्रयासों के बावजूद समाप्त नहीं होता, तो आज होलिका दहन की रात को पति-पत्नी चंद्रमा की रोशनी नें खड़े होकर एक प्लेट में छुआरे और मखाने लें और घी का दीपक जलाएं. इसके बाद चंद्रमा को दूध का अर्घ्य दें और दीपक और धूपबत्ती दिखाएं. आज पूर्णिमा की रात में ऐसा करने से आर्थिक परेशानियां दूर होती हैं और घर में सुख समृद्धि आती है.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... -------------------------
--------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper