‘भागीदार’ होने के इल्जाम पर मोदी का तगड़ा पलटवार, बोले- हर दुखियारी मां की पीड़ा का भागीदार हूं

लखनऊ: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शुक्रवार शाम को दो दिन के दौरे पर लखनऊ पहुंचे। इस मौके पर अलग-अलग शहरों में करीब 64 हजार करोड़ रुपए की विकास योजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। उन्होंने भ्रष्टाचार में भागीदार होने के राहुल गांधी के आरोप का जवाब भी दिया। मोदी ने कहा कि मैं देश की हर दुखियारी मां और गरीब-किसान की परेशानी का भागीदार हूं। जिनके सिर पर छत नहीं है।

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि मुझ पर एक आरोप लगाया गया कि मैं चौकीदार नहीं, भागीदार हूं। लेकिन मैं इस इल्जाम को ईनाम मानता हूं। मैं मेहनतकश का भागीदार हूं, हर दुखियारी मां की पीड़ा का भागीदार हूं, मैं भागीदार हूं उस किसान के दर्द का जिसकी फसल सूखे से बर्बाद हो जाती है। मैं उन सैनिकों का भागीदार हूं जो हमारे लिए सबकुछ न्योछावर करने के लिए तैयार हैं। मैं भागीदार हूं उस कोशिश का जिसके जरिए लोगों को घर मिले, बिजली-पानी मिले, युवाओं को रोजगार मिले, हवाई चप्पल वालों को हवाई यात्रा करने का मौका मिले।

गरीबी ने मुझे ईमानदारी और हिम्मत दी है। मैंने गरीबी की मार झेली है। मैंने गरीबी की परेशानियों को करीब से देखा है। ये भी कहा गया कि मैं चायवाला हूं और प्रधानमंत्री बनने वाला हूं। लेकिन इसका फैसला उन्होंने नहीं, देश की जनता ने किया। पीएम मोदी ने अपने भाषण में पूर्व पीएम और लखनऊ से सांसद रहे अटल बिहारी वाजपेयी को भी याद किया। उन्होंने शहरी विकास में अटल की भूमिका को सर्वोपरि बताया। उन्होंने कहा कि लखनऊ को पूर्व प्रधानमंत्री ने नगर विकास की कार्यशाला के रूप में विकसित किया है। पीएम मोदी ने यह भी कहा कि यह जगह देश के शहरी जीवन को नई दिशा देने वाले महापुरुष की कर्मभूमि रही है।

पीएम मोदी ने कहा कि यूपी में केंद्र की योजनाओं को पिछली सरकार के दौरान लागू कराने में मुश्किलें आईं। सपा अध्यक्ष और पूर्व सीएम अखिलेश यादव पर टिप्पणी करते हुए उन्होंने कहा कि पिछली सरकार लोगों के घर नहीं बनवा पाई, क्योंकि उनका सिंगल प्वाइंट प्रोग्राम अपने बंगले को सजाना और संवारना था।

इस दौरान अपने संबोधन में पीएम मोदी ने कहा कि कुछ भाई-बहनों और बेटियों को उनके अपने मकान की चाबियां सौंपी गईं और यह पाकर जो चमक उनके चेहरे पर थी, उज्जवल भविष्य का जो आत्मविश्वास उनकी आंखों से झलक रहा था, वो हम सभी के लिए बड़ी प्रेरणा है। उन्होंने कहा कि देश के गरीब-बेघर भाई-बहनों के जीवन को बदलते देखना सचमुच शानदार अनुभव है। पीएम मोदी ने आवास योजना के लाभार्थियों से बातचीत भी की।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper