भाजपा की संसदीय दल की बैठक में बोले पीएम, 2019 पर रखो फोकस

नई दिल्ली: गुजरात और हिमाचल प्रदेश की जीत ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए भाजपा में नई ऊर्जा भरने का काम किया है और इस शानदार जीत के बाद अब भाजपा मिशन 2019 में जुट गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भाजपा की संसदीय दल की बैठक में 2019 लोकसभा चुनावों में जीत के लिए भाजपा को अपनी जड़ें मजबूत करने का आह्वान किया और पार्टी के अंदर और बाहर युवा चेहरों को बढ़ावा देने पर जोर दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने नई दिल्ली में आयोजित भाजपा संसदीय दल की बैठक को संबोधित करते हुए नई पीढ़ी को ‘नए भारत’ के लिए प्रोत्साहित किया।

संसदीय मामलों के मंत्री अनंत कुमार ने संवाददाताओं को बताया, ‘प्रधानमंत्री ने पार्टी नेताओं से आग्रह किया कि भाजपा के खिलाफ विपक्ष के ‘दुष्प्रचार’ (अभियान) से प्रभावित न हो, बूथ स्तर का काम चुनाव अभियान की जड़ है।’ अनंत कुमार ने कहा कि उन्होंने देशभर में पार्टी की जड़ों को मजबूत करने को कहा। पार्टी सूत्रों ने कहा कि मोदी ने कई बार भावुक होकर उन पलों को याद किया कि गुजरात में पार्टी संगठन कैसे बनाया गया था और युवा नेताओं को उनके वरिष्ठों ने कैसे तैयार किया था, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी शामिल थे। गुजरात विधानसभा चुनाव में कांग्रेस ने अपना उच्चतम स्कोर बनाने और पिछले कई चुनावों में भाजपा को अपना सबसे कम स्कोर करने के लिए ‘नैतिक जीत’ का दावे पर जोर देते हुए पीएम मोदी ने कहा कि यह उनकी पार्टी के लिए अपने घर में सबसे बड़ी जीत है।

इसे भी पढ़िए: पीएम जनधन योजना के तहत 30 करोड़ से भी अधिक खोले गए खाते

विधानसभा चुनाव में अपनी जीत का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र की सत्ता पर काबिज किसी भी पार्टी ने अपने कार्यकाल के 3-4 वर्षों में देश में हुए चुनाव में इतना अच्छा काम नहीं किया, जैसा की भाजपा ने किया है। मोदी ने उन दिनों को याद किया जब लोकसभा चुनाव में पार्टी ने गुजरात से अच्छा प्रदर्शन किया था, जब वाजपेयी जी ने उन्हें व्यक्तिगत रूप से बधाई दी थी। यह कहते हुए कि वे संघ से भाजपा में अपेक्षाकृत नया चेहरा हैं और राज्य के प्रभारी महासचिव हैं, वे व्यापक रूप से पार्टी में जाने नहीं जाते हैं। संगठन में हर स्तर पर युवा नेताओं की पदोन्नति पर जोर देते हुए मोदी ने पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह के साथ अपने सहयोग का उल्लेख किया, जो आज की बैठक में मौजूद थे और उन्होंने बताया कि उन्होंने अपने से 14 साल छोटे शाह को कैसे संगठन के लिए तैयार किया।

अनंत कुमार ने कहा कि प्रधानमंत्री ने देशभर में संगठन को मजबूती देने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि लोगों के आशीर्वाद के साथ-साथ, बूथ स्तर पर काम करना सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण है। मोदी चाहते हैं कि युवा पीढ़ियों को पार्टी के काम, सामाजिक कार्य और राष्ट्र के निर्माण के साथ जोड़ा जाए। उन्होंने कहा कि “मिलेनियल पीढ़ी” 2018 से मतदान के योग्य होगा। वहीं, अपने संबोधन में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने गुजरात चुनाव में नैतिक जीत के दावे पर कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा कि यह विपक्षी पार्टी के लिए हार की जीत देखने के लिए एक “हास्यास्पद व्यायाम” जैसा है। गौरतलब है कि 49 फीसद से अधिक मत प्राप्त करके पिछले कई चुनावों में भाजपा को उच्चतम मत हासिल हुए, जिनमें वर्ष 2012 का चुनाव भी शामिल है जब पार्टी ने 116 सीटों पर अपना कब्जा जमाया। वहीं, 2017 में 99 सीटों पर जीत दर्ज कर भाजपा अपने रिकॉर्ड पर अब भी कायम है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper