भाजपा केन्द्रीय योजनाओं के लाभार्थियों के घरों में जलायेगी दीपक

लखनऊ ब्यूरो। उत्तर प्रदेश में आगामी 26 जनवरी को एक और दीपावली जैसा माहौल हो सकता है क्योंकि उस दिन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं के लाभार्थियों के घरों में जाकर दीपक जलायेंगे।

अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश से लोकसभा की कुल 80 में से 73 से अधिक सीटों को जीतने का लक्ष्य लेकर चल रही भाजपा ने बृहस्पतिवार को इसी सिलसिले में राज्य के विभिन्न आयोंगों के अध्यक्षों, उसके सदस्यों और पार्टी पदाधिकारियों की बैठक की।

पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष डॉ. महेन्द्र पाण्डेय, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य और महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने बैठक में शामिल करीब 300 से अधिक प्रतिनिधियों को चुनाव में विजय हासिल करने के लिये तैयार कार्यक्रमों की घुट्टी पिलायी।

राज्य में प्रधानमंत्री आवास,उज्ज्वला,सौभाग्य,जन-धन और मुद्रा जैसी योजनाओं के करीब तीन करोड़ लाभार्थी हैं। पार्टी कार्यकर्ता लाभार्थियों से मिलकर उन्हें बतायेंगे कि मोदी सरकार की योजनाओं से उन्हें कितना लाभ हुआ है। इससे लाभार्थियों को भावनात्मक रूप से भाजपा से जोड़ा जा सकेगा।

26 जनवरी को लाभार्थियों के घरों में दीपक जलाने का भी कार्यक्रम बना है ताकि योजनाओं का लाभ पाने वाले को आश्वस्त किया जा सके कि जिसका लाभ उसे मिल रहा है,वह योजना भाजपा सरकार की ही देन है। पार्टी बूथों पर भी दीपक जलाने का कार्यक्रम बना रही है,ताकि क्षेत्रीय लोगों को भी केन्द्र की योजनाओं की धरातलीय जानकारी हो सके।

इसके साथ ही लोकसभा संवाद, विस्तारक योजना,विधानसभा व लोकसभा बैठक, मतदाता सूची अभियान, ग्राम सम्पर्क अभियान, ग्राम चौपाल, ग्राम स्वराज अभियान, मोटरसाईकिल रैली, महिला लाभार्थी सम्पर्क अभियान, बूथ समिति बैठक, सोशल मीडिया वालिंटियर सम्मेलन, कमल विकास ज्योति महाभियान, युवा सम्मेलन, जातिय सम्मेलन समेत अन्य कार्यक्रम शामिल है।

पार्टी ने कल से राज्य की सभी 80 सीटों पर लोकसभा संचालन समिति की बैठक बुलायी है। हर बैठक में राज्य सरकार का कम से कम एक मंत्री और एक प्रदेश पदाधिकारी मौजूद रहेगा। इसके साथ ही दिवाली के बाद बूथ समितियों का अभिनंदन कार्यक्रम आयोजित होगा। इस कार्यक्रम में अभिनंदन के साथ ही समितियों के सदस्यों का परिचय कराया जाएगा। इस कार्यक्रम में स्थानीय विधायक पार्टी के पदाधिकारी बूथों पर जाकर समिति के सदस्यों को सम्मानित करेंगे।

राज्य में 1,63,300 (एक लाख त्रिसठ हजार तीन सौ) बूथ हैं। भाजपा की हर बूथ समितियों में 21 कार्यकर्ता शामिल किए गए हैं। इस कार्यक्रम के बाद सभी समितियों का लखनऊ में एक सम्मेलन किया जाएगा। हालांकि इसकी तिथि अभी तय नहीं है।

इसके बाद 17 नवम्बर को ‘कमल संदेश बाइक रैली’ निकाली जाएगी। यह रैली प्रदेश के सभी 80 लोकसभा क्षेत्रों में निकलेगी। इसमें स्थानीय सांसद और विधायक शामिल होंगे। इसके बाद हर विधानसभा क्षेत्र में पदयात्रा का आयोजन होगा।

वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा और उसके सहयोगी अपना दल ने 73 सीटीं जीती थीं। भाजपा ने इस बार भी 73 प्लस सीटों को जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया है। इन कार्यक्रमों के जरिये लक्ष्य की प्राप्ति की कोशिश में पार्टी जुटी हैं। आयोगों के अध्यक्षों और सदस्यों से इन कार्यक्रमों में कार्यकताओं के साथ ही आम जनता की भागीदारी बढ़ाने के लिये कहा गया है। वर्ष 2014 के चुनाव में भाजपा को करीब 42 फीसदी मत हासिल हुआ था। पार्टी आगामी लोकसभा चुनाव में इसे कम से कम 51 प्रतिशत पर ले जाना चाहती है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper