भाजपा नेता वसीम बारी की सुरक्षा में तैनात 8 पुलिसकर्मी सस्पेंड

श्रीनगर: उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा में आतंकी हमले में मारे गए बीजेपी नेता वसीम अहमद बारी के हत्यारों की तलाश शुरू हो गई है। वसीम की तमाम सुरक्षा के बावजूद हुई हत्या की इस वारदात ने कश्मीर में सुरक्षा इंतजामों पर बड़े सवाल उठाए हैं। इसके अलावा बांदीपोरा पुलिस ने वसीम की सुरक्षा में तैनात 8 जवानों को सस्पेंड कर दिया है। बताया जा रहा है कि जिस वक्त वसीम पर हमला हुआ, उस वक्त उनके साथ उनका कोई भी सुरक्षाकर्मी मौजूद नहीं था।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के एक अधिकारी के अनुसार, सभी पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित करते हुए ड्यूटी पर की गई लापरवाही के मामले की जांच की जा रही है। इसके अलावा हमले के वक्त पुलिसकर्मी कहां थे इसका भी पता लगाया जा रहा है। बांदीपोरा के थाने से महज 10 मीटर की दूरी पर हुई इस वारदात ने जहां कश्मीर में लॉ ऐंड ऑर्डर की स्थितियों पर सवालिया निशान लगा दिया है, वहीं विपक्ष इस मुद्दे को लेकर केंद्र और प्रदेश सरकार पर हमलावर है।

बाइक सवार बदमाशों ने मारी गोली
बताया जा रहा है कि बाइक सवार बदमाशों ने मुस्लिमपोरा इलाके में वसीम अहमद बारी, उनके पिता और भाई को गोली मारी थी। इन सभी की सुरक्षा के लिए 8 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था। हमला करने वाले आतंकियों ने ताबड़तोड़ गोलियां बरसाईं लेकिन कहा जा रहा है कि किसी ने इसकी आवाज नहीं सुनी। इसके बाद आतंकी मौके से फरार हो गए। वहीं वारदात के बाद घायल लोगों को पहले बांदीपोरा में भर्ती किया गया और इसके बाद सभी को श्रीनगर भेज दिया गया।

पीएम मोदी ने भी ली जानकारी
इस घटना के बाद कश्मीर समेत देश के तमाम हिस्सों में बीजेपी के नेताओं में हड़कंप मच गया। खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जताते हुए केंद्रीय मंत्री डॉ. जितेंद्र सिंह से इस मामले की जानकारी ली। वहीं सेना ने इस इलाके में वसीम और उनके परिवार के हत्यारों की तलाश शुरू की है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper