भाजपा विधायक पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता के पिता की जेल में मौत

उन्नाव: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ स्थित मुख्यमंत्री आवास के सामने रविवार को आत्मदाह करने वाली दुष्कर्म पीड़िता के पिता की सोमवार की सुबह उन्नाव जेल में संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी। परिजनों ने आरोपी भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर जेल में हत्या कराने का आरोप लगाया है। वहीं, इस सम्बन्ध में गृह विभाग ने डीजी जेल व उन्नाव जिला प्रशासन रिपोर्ट मांगा है।

उन्नाव के माखी थानाक्षेत्र की रहने वाली युवती ने भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर आरोप लगाया कि जून 2017 में उन्होंने उसे बंधक बनाकर कई बार दुष्कर्म किया। पीड़िता ने थाने में आरोपी विधायक के खिलाफ तहरीर दी, तो पुलिस ने उसकी कोई भी फरियाद नहीं सुनी और थाने से लौटा दिया। इसके बाद वह कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया, लेकिन वहां से उसे न्याय नहीं मिला।

इससे आहत होकर रविवार को पीड़िता परिवार के साथ मुख्यमंत्री आवास पहुंची और केरोसीन डालकर आत्मदाह का प्रयास भी किया। पुलिस ने आत्मदाह करने के दौरान पूरे परिवार को पकड़ लिया और गौतमपल्ली थाने ले आयी थी।

मामला गंभीर होने पर एडीजी राजीव कृष्णा पीड़ित परिवार से मिले और मामले की जांच लखनऊ पुलिस से कराने का निर्देश दिया। इसके बाद सुरक्षा में परिवार को उन्नाव पुलिस के साथ घर भेज दिया। वहीं पीड़ित के पिता को चार अप्रैल को आर्म्स एक्ट और मारपीट के आरोप में जेल हुई थी। उन्नाव जेल प्रशासन के मुताबिक, रविवार देर रात उसके पेट में दर्द उठा था, जिसके बाद उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई।

सोमवार की सुबह मौत की खबर पर पीड़ित परिवार ने बीजेपी विधायक और उसके भाई अतुल सिंह सेंगर पर हत्या का आरोप लगाया है। इस मामले में गृह विभाग ने डीजी जेल व जिला प्रशासन से पूरे प्रकरण की रिपोर्ट तलब की है। वहीं शासन ने भी एसपी उन्नाव से रिपोर्ट मांगी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper