भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में यूपी गेट बॉर्डर पर महापंचायत आज, किसानों के 17 संगठन शामिल होंगे

नई दिल्ली: भारतीय किसान यूनियन के नेतृत्व में यूपी गेट बॉर्डर पर गुरुवार सुबह 11 बजे महापंचायत होगी। इसमें देश के अलग-अलग राज्यों के 17 संगठन के किसान शामिल होंगे। केरल, उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के अलग-अलग जिले से किसान यूपी गेट पर पहुंच रहे हैं। बुधवार शाम तक किसानों के पहुंचने का सिलसिला जारी रहा।

गुरुवार सुबह महापंचायत में अधिक संख्या में किसानों के पहुंचने की बात कही जा रही है। बुधवार को पूरे दिन धरना स्थल पर समूहों में किसान महापंचायत को लेकर चर्चा करते नजर आए। भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने कहा कि महापंचायत में किसानों की समस्याओं पर चर्चा की जाएगी। अगर सरकार मांगों को नहीं मानती है तो आगे की रणनीति की तैयारी की जाएगी।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत बुधवार दोपहर करीब 1:30 बजे सिंघु बॉर्डर के लिए कार से रवाना हो गए। इस दौरान उन्होंने कहा कि वह सिंघु बॉर्डर पर बैठे किसानों की समस्यों पर बातचीत के लिए जा रहे हैं। वहां के किसानों से पूरे मामले को लेकर वार्ता करेंगे।

रोजाना की तरफ बुधवार सुबह करीब 8:30 बजे किसानों का एक समूह बॉर्डर पर बैरिकेड पर पहुंचा और हंगामा करते हुए बैरिकेड को तोड़ दिया। इस दौरान बैरिकेड पर मौजूद सुरक्षा बलों ने उन्हें अंदर नहीं जाने दिया। किसान वापस धरना स्थल पर आकर बैठ गए।

पूरे दिन रुक-रुक कर किसान बैरिकेड के पास पहुंचकर नारेबाजी करते रहे। वहीं, धरना स्थल पर बैठे किसानों के लिए कई संगठनों की ओर से खाने पीने की व्यवस्था की गई है। लंगर चल रहा था। वहीं कई संगठन के लोग गाड़ियों से भी खाना पहुंचा रहे थे।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper