भारत पहुंचा स्वस्थ मरीजों के मामले में पहले पायदान पर, कोरोना को हराने में सबसे आगे हिंदुस्तानी

नई दिल्ली: दुनिया में कोरोना से स्वस्थ हो चुके लोगों के मामले में सोमवार को भारत पहले पायदान पर पहुंच गया। जॉन हॉपकिंस यूनिवर्सिटी के आंकड़ों के अनुसार, भारत में 37 लाख 80 हजार से ज्यादा लोग महामारी से उबर चुके हैं। भारत ने इस मामले में ब्राजील को पीछे छोड़ा है। दुनिया में महामारी से स्वस्थ हो चुके मरीजों की तादाद 1.9 करोड़ के करीब है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि भारत में स्वस्थ मरीजों की दर (रिकवरी रेट) भी 78 फीसदी पर पहुंच गया है। भारत में सोमवार को 92,701 मरीजों के मिलने के साथ कुल मामले 48 लाख 46 हजार 427 तक पहुंच गए। इनमें से सक्रिय मरीज नौ लाख 86 हजार 598 हैं। देश में 1136 मौतों के साथ कोरोना से जान गंवाने वालों की तादाद 79,722 पहुंच गई है।

महाराष्ट्र में सर्वाधिक स्वस्थ, रिकवरी रेट में तमिलनाडु आगे
देश में स्वस्थ मरीजों के मामले में पांच शीर्ष राज्यों की बात करें तो महाराष्ट्र में कोविड के सर्वाधिक मामलों के साथ सबसे ज्यादा स्वस्थ व्यक्ति भी हैं, लेकिन 69.79 फीसदी के साथ वह रिकवरी रेट में इनमें सबसे पीछे है। महाराष्ट्र में 10,60,308 मरीज हैं, जिसमें 7,40,061 स्वस्थ हो चुके हैं। यूपी में रिकवरी रेट 76.74%, आंध्र प्रदेश में 82.36%, तमिलनाडु में 88.98%, कर्नाटक में 76.82% है।

विश्व में एक दिन के मामले सर्वोच्च स्तर पर
डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में रिकॉर्ड 3,07,930 मरीज मिले हैं, जो अब तक किसी भी दिन मिले मरीजों की सबसे ज्यादा संख्या है। इसमें 60 फीसदी केस तीन देश अमेरिका, ब्राजील और भारत में मिले हैं।विश्व में मौतों की संख्या 9,17,417 तक पहुंच गई है।

केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सोमवार को लोकसभा में कहा, ‘लॉकडाउन के कारण 37 से लेकर 78 हजार लोगों की जानें बचाई जा सकीं। चार महीने तक चली देशव्यापी बंदी ने 14-29 लाख कोरोना मामलों को भी रोका। मार्च के मुकाबले, आइसोलेशन बेड में 36.3 गुना और आईसीयू बेड्स में 24.6 गुना वृद्धि हुई। छह माह पहले देश में कोई भी पीपीई किट नहीं बनाई जाती थीं, लेकिन अब हम इसका निर्यात करने की स्थिति में हैं।’

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper