भारत बंद: सहारनपुर में पुलिस ने किया लाठीचार्ज, विरोध में पथराव

सहारनपुर: एससी-एसटी एक्ट पर देश की शीर्ष अदालत सुप्रीम कोर्ट के ताजा फैसले के बाद दलित संगठनों ने आज भारत बंद का आह्वान किया है। इस दौरान यहां बेहट पुलिस की नासमझी से प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज करा दिया गया, जिसके विरोध स्वरूप दलितों में गुस्सा पनप गया और उन्होंने पुलिस पर पथराव कर दिया। बताया जाता है कि कुछ लोगों द्वारा गोलीबारी भी की गई, जिस कारण भगदड़ मच गई।

भारत बंद को लेकर बेहट रोड स्थित गांव बाबैल बुजुर्ग के दलित समाज के लोग सड़क प्रदर्शन करने के लिए सोमवार की सुबह से ही सड़क पर जमा हो गए थे। सभी प्रदर्शनकारी प्रदेश और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी कर रहे थे। प्रदर्शन की जानकारी पाकर थाना बेहट पुलिस भी मौके पर पहुंच गई। दोपहर करीब साढ़े बारह बजे तक पुलिस चुपचाप खड़े होकर प्रदर्शनकारियों को देख रही थी कि अचानक पुलिस ने आक्रामक रूख दिखाना शुरू दिया। देखते ही देखते थानाध्यक्ष ने पुलिस कर्मियों को लाठीचार्ज करने का आदेश दे दिया, जिसके बाद पुलिस के जवान प्रदर्शनकारियों पर लाठियां लेकर टूट पड़े और प्रदर्शनकारी दलितों पर लाठीचार्ज कर दिया।

इसके बाद तो मौके पर भगदड़ मच गई, जिससे दलितों में गुस्सा फूट गया और उन्होंने सड़क के आसपास पड़े पत्थरों को उठाकर पुलिस पर बरसाना शुरू कर दिया। बताया जाता है कि इस दौरान कुछ लोगों द्वारा गोलीबारी भी की गई। यह गोलीबारी प्रदर्शनकारियों ने की अथवा किसी अन्य ने, इसका अभी तक पता नहीं चल सका है। उधर, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक बबलू कुमार ने बताया कि गोलीबारी और लाठीचार्ज जैसी कोई घटना नहीं हुई है। किसी ने अफवाह फैलाई है। बाबैल बुजुर्ग में जाम लगाया गया है। माहौल पूरी तरह से शांत है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper