भारत बायोटेक 20 जून को जारी करेगा कोवैक्सीन के तीसरे चरण का डेटा: केंद्र

नई दिल्ली: केंद्र सरकार ने शुक्रवार को कहा कि कोवैक्सिन के तीसरे चरण के परीक्षण के आंकड़े 20 जून तक जारी किए जाएंगे। कोवैक्सिन निर्माता भारत बायोटेक द्वारा कहा गया है कि । जुलाई तक वैक्सीन का डाटा सार्वजनिक कर दिया जाएगा। बता दें कि भारत में पिछले कई महीनों से लोगों को ये वैक्सीन लगाई जा रही है, जबकि अभी तक इसके तीसरे चरण का डेटा जारी नहीं किया गया है। इससे पहले अमेरिका में भारत बायोटेक की कोवैक्सीन के इमरजेंसी यूज को मंजूरी देने से इनकार कर दिया था।

नीति आय़ोग के सदस्य वीके पॉल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि, कोवैक्सिन तीसरे चरण का डेटा और फॉलो-अप स्टडी कुछ दिनों में उपलब्ध होनी चाहिए। भारत बायोटेक ने संकेत दिया है कि वे सभी डेटा उपलब्ध होने पर कोवैक्सिन के पूर्ण लाइसेंस के लिए आवेदन करेंगे। भारत बॉयोटेक को अपने कोविड-19 टीके कोवैक्सीन फेज-3 के डाटा को वैज्ञानिक पत्रिकाओं को दिए जाने के बाद दो से चार महीने में टीके के विशेषज्ञों द्वारा समीक्षा (पीयर रीव्यू) की उम्मीद है।

भारत बायोटेक ने कहा कि, इससे पहले भारत के औषधि महानियंत्रक द्वारा भारत बायोटेक की कोवैक्सिन को प्रतिबंधित आपातकालीन स्वीकृति देने के निर्णय की प्रक्रिया पर सवाल उठाए थे। माना जाता है कि पैनल ने कोविशील्ड के यूके परीक्षणों के चरण- III डेटा पर विचार किया था, लेकिन कोवैक्सिन के लिए चरण- III परीक्षणों का ऐसा कोई डेटा उपलब्ध नहीं था। भारत बॉयोटेक में कोविड-19 टीकों के परियोजना प्रमुख रेचेस इल्ला ने बुधवार को यह जानकारी दी। कंपनी ने इस टीके का डाटा अब तक सार्वजनिक नहीं किया है।

उधर, भारत बायोटेक के अमेरिकी पार्टनर ओक्यूजेन ने गुरुवार को कहा कि कंपनी अब कोवैक्सिन की पूरी मंजूरी मांगेगी। दरअसल, यूएस एफडीए कंपनी को एक अतिरिक्त परीक्षण शुरू करने के लिए कह रहा है, ताकि कंपनी एक बायोलॉजिक्स लाइसेंस आवेदन (बीएलए) के लिए फाइल कर सके, जो कि एक पूर्ण मंजूरी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper