भूपेंद्र सिंह चौधरी सीएम योगी से मुलाकात के बाद आज मंत्रिमंडल से दे सकते हैं इस्तीफा, कौन संभालेगा पंचायती राज विभाग?

लखनऊ: उत्तर प्रदेश सरकार के कैबिनेट मंत्री भूपेंद्र चौधरी आज सीएम योगी से मुलाकात के बाद मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे सकते हैं। भूपेंद्र सिंह चौधरी के इस्तीफे के बाद पंचायती राज कौन संभालेगा ?इसका निर्णय अभी तक नहीं हुआ है। चर्चा है मुख्यमंत्री पंचायती राज विभाग खुद अपने पास रख सकते हैं।

दरअसल, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बनने के बाद भूपेंद्र सिंह चौधरी सोमवार को पहली बार लखनऊ पहुंच रहे हैं। इनके भव्य स्वागत के लिए पार्टी नेताओं-कार्यकर्ताओं ने पूरे शहर को भगवामय कर दिया है। जगह-जगह तोरणद्वार बनाए गए हैं जहां पर उन्हें मालाएं पहनाने के साथ ही पुष्पवर्षा का इंतजाम है। लखनऊ में कदम रखते ही उनकी यात्रा का पड़ाव हर उस स्थान पर होगी, जहां पर महापुरुषों की प्रतिमाएं लगी हैं। इन स्थलों को सलीके से सजाया गया है।

प्रदेश अध्यक्ष शताब्दी एक्सप्रेस से दोपहर 12.30 बजे लखनऊ पहुंचेंगे। नई दिल्ली से शताब्दी एक्सप्रेस से चलकर लखनऊ पहुंचने के दौरान रास्ते में पड़ने वाले स्टेशनों पर भी पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा जगह-जगह उनका स्वागत किया जाएगा। प्रदेश महामंत्री सुब्रत पाठक ने बताया है कि प्रदेश अध्यक्ष के स्वागत व पदभार ग्रहण कार्यक्रम को अभूतपूर्व बनाने के लिए तैयारियों को अंतिम रूप दे दिया गया है।

जाटों को साधने की कोशिश में बीजेपी
भाजपा के नए प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र सिंह चौधरी के सामने ज्यादा से ज्यादा जाटों को भाजपा से जोड़ने के साथ ही किसानों की नाराजगी के सियासी असर को साधने की भी बड़ी चुनौती होगी। साथ ही भारतीय किसान यूनियन के विरोध के सामने स्थानीय लोगों को साधते हुए ब़ड़ी लकीर भी बनानी होगी। कुल मिलाकर प्रदेश भाजपा के नए चौधरी बने भूपेंद्र सिंह को पश्चिमी यूपी में चौधरी चरण सिंह के कुनबे की चौधराहट से पार पाने के लिए बड़ी परीक्षा से गुजरना होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper