भ्रष्टाचारियों की सात पीढ़ियों की संपत्ति का अधिग्रहण किया जाएगा- मुख्यमंत्री योगी

जौनपुर: यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बीते पांच सालों में जैसे माफिया राज का खात्मा कर प्रदेश को दंगामुक्त बनाया गया है, अब उसी तरह भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम शुरू होगी। भ्रष्टाचारी कोई भी हो, जीरो टॉलरेंस के साथ उसकी सात पीढ़ियों की इकट्ठा की गई संपत्ति का अधिग्रहण किया जाएगा और उसका उपयोग गरीबों के हित में होगा।

मुख्यमंत्री योगी शुक्रवार को वीरबहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय, जौनपुर परिसर में आयोजित कार्यक्रम में जनता से मुखातिब थे। जौनपुर जिले के लिए 258 करोड़ की 116 परियोजनाओं का लोकार्पण/शिलान्यास करते हुए मुख्यमंत्री ने पिछली सरकारों की भ्रष्टाचारपोषी नीतियों का राजफाश भी किया। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार 2017 के पहले की सरकारों के ‘जीन’ में शामिल था। तब अपने ठेकेदारों और गुर्गों को लाभ पहुंचाने के लिए सरकार योजनाएं बनाती थीं। हर ‘काम’ का ‘दाम’ पहले से तय होता था। सत्तापोषित भ्रष्टाचार का यह रैकेट घुन की तरह पूरे प्रदेश की व्यवस्था को खोखला कर रहा था, जिसका खामियाजा पूरे प्रदेश को भुगतना पड़ता था। लेकिन आज परीक्षाएं हों या नियुक्तियां, सबमें शुचिता और पारदर्शिता है। शासन की योजनाओं का लाभ बिना किसी भेदभाव के पात्र व्यक्ति को मिल रहा है। जनसभा से पहले स्व. उमानाथ सिंह मेडिकल कॉलेज और एसटीपी की क्रियाशीलता का निरीक्षण करने की जानकारी देते हुए सीएम ने कहा कि जौनपुर जैसा असीमित संभावनाओं वाला जिला दशकों से विकास की आस में था, आज उसे वह सब कुछ मिल रहा है, जिसका जौनपुर हकदार है। जौनपुर के सुप्रसिद्ध इत्र और इमरती का जिक्र करते हुए सीएम योगी ने कहा कि यहां के पारंपरिक इत्र कारोबार को पुनर्जीवित करने के लिए ठोस कार्ययोजना तैयार हो गई है,तो इमरती की जीआई टैगिंग कराई जा रही है। जौनपुर के इत्र और इमरती की सुगंध और मिठास अब वैश्विक होने जा रही है।

शासन की विभिन्न लोक कल्याणकारी योजनाओं से पात्र लोगों को लाभान्वित करते हुए मुख्यमंत्री योगी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ के संकल्प से लोगों को जोड़ने का प्रयास किया। उन्होंने कहा कि हर किसी को अपने कार्यक्षेत्र में ईमानदारी और शुचिता बनाये रखनी होगी। आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना को पूरा करने में सभी का सहयोग जरूरी है। खास मौके पर सीएम ने ‘मातृभूमि योजना’ का परिचय भी कराया और कहा कि अब कोई भी अपने गांव/शहर के विकास में सीधी भागीदारी कर सकता है। सीएम ने ग्राम पंचायतों और नगरीय निकायों को आत्मनिर्भर होने के लिए प्रोत्साहित करते हुए कहा कि आत्मनिर्भर ग्राम पंचायत/शहरी निकायों को स्मार्ट बनाने के लिए प्रदेश सरकार वित्तीय सहयोग भी देगी। कार्यक्रम में सीएम ने उत्तर प्रदेश में स्वतंत्रता संग्राम और जौनपुर की भूमिका विषयक पुस्तक का विमोचन भी किया। हाल ही में जारी एनसीआरबी रिपोर्ट का हवाला देते हुए मुख्यमंत्री योगी ने प्रदेश में सुरक्षा, शांति और समृद्धि के अपने संकल्प को दोहराया और कहा कि सरकार के संवेदनशील कोशिशों से प्रदेश में औद्योगिक निवेश बढ़ा है और रोजगार के नए माध्यम बन रहे हैं। नतीजतन, आज प्रदेश की ऊर्जा और प्रतिभा का पूरा उपयोग प्रदेश के विकास में हो रहा है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper