भ्रष्टाचार के मामले में हिरासत से छूटे सऊदी प्रिंस मितब

दुबई: सऊदी अरब के प्रिंस मितब बिन अब्दुल्ला को भ्रष्टाचार के आरोपों के बाद तीन सप्ताह से अधिक समय तक हिरासत में रखने के बाद मंगलवार को रिहा कर दिया गया। सऊदी अधिकारियों ने बताया कि प्रिंस मितब ने भ्रष्टाचार की बात स्वीकार कर ली है। 6500 करोड़ की चुकाने की बात स्वीकार करने के बाद ही उनकी ह़िराई संभव हुई है। प्रिंस मितब को राज सिंहासन के दावेदार के रूप में देखा जा रहा था।

सरकार से डील के बाद उन्हें रिहा कर दिया गया है। भ्रष्टाचार के मामले में शामिल तीन और लोगों और सऊदी सरकार के बीच भी समझौता होने वाला है। उल्लेखनीय है कि सऊदी अरब सरकार ने भ्रष्‍टाचार के खिलाफ कड़ा कदम उठाया था। सऊदी अरब की भ्रष्टाचार निरोधक कमेटी ने 11 राजकुमारों, चार मंत्रियों और दर्जनों पूर्व मंत्रियों को हिरासत में लिया था। इन 11 राजकुमारों में सऊदी के सबसे अमीर रॉयल अलवलीद बिन तलाल अल सऊद भी शामिल हैं।

64 वर्षीय मितब पूर्व किंग अब्दुल्लाह के बेटे हैं और इस परिवार के ऐसे इकलौते सदस्य हैं, जो किसी बड़े पद पर थे। इस गिरफ्तारी से पहले उन्हें उनके पद से हटा दिया गया था। भ्रष्टाचार के आरोप में इस महीने के शुरुआत में प्रिंस, मंत्री और शीर्ष व्यवसायियों को गिरफ्तार कर लक्जरी होटल में रखा गया था।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper