मंत्रिमंडल में 27 मंत्रियों को शामिल करके पिछड़ा वर्ग का PM ने किया सम्मान: अश्विनी

जौनपुर: भारतीय जनता पार्टी के क्षेत्रीय अध्यक्ष पिछड़ा मोर्चा काशी क्षेत्र अश्विनी में आज कहा कि जब जब केंद्र में भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है तब तब पिछड़ा वर्ग के लोगों को भरपूर सम्मान मिला है। चाहे अटल बिहारी वाजपेई की सरकार में आधुनिक भारत के निर्माता सरदार पटेल को भारत रत्न की उपाधि हो अथवा मोदी के कार्यकाल में गुजरात के मानसरोवर में सरदार पटेल की सबसे ऊंची प्रतिमा की स्थापना हो। इतना ही नहीं भाजपा ने हमेशा से पिछड़ा वर्ग के उत्थान के लिए कार्य किया है। क्योंकि भारतीय जनता पार्टी की स्थापना ही अंत के उदय को लेकर हुई है।

इसलिए देश में भाजपा एकलौता राजनीतिक दल है जो पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए हमेशा कार्य करता रहता है। श्री अश्वनी रविवार को कहा कि मोदी सरकार के पहले देश में पिछड़ा वर्ग आयोग का गठन तो हो गया था लेकिन वह केवल कहने के लिए था, लेकिन केंद्र में मोदी के नेतृत्व में जैसे ही भाजपा की सरकार बनी उन्होंने पिछड़ा वर्ग आयोग को संवैधानिक दर्जा देने का कार्य किया। आज पिछड़ा वर्ग के कल्याण के लिए भारत सरकार और योगी सरकार की ओर से बहुत सी योजनाओं को चलाकर उनको सामर्थवान बनाने के लिए सार्थक प्रयास जारी है।

प्रधानमंत्री ने पिछड़ा वर्ग को सम्मान देते हुए अपने मंत्रिमंडल में 27 मंत्रियों को शामिल करके यह सिद्ध कर दिया है कि भारतीय जनता पार्टी सदैव पिछड़ा वर्ग के उत्थान के लिए कृत संकल्पित है। केंद्र सरकार की उपलब्धियों की चर्चा करते हुए कहा कि भारत में ही प्रतिदिन 5 लाख से अधिक स्वदेशी हृ-95 मास्क का उत्पादन हो रहा है। भारत में ही 5 लाख से अधिक पीपीई किट का प्रतिदिन निर्माण हो रहा है। देश में अब 4 लाख से ज्यादा वेंटीलेटर का प्रतिवर्ष उत्पादन हो रहा है।

उन्होंने कहा कि मोदी सरकार द्वारा कोरोना की चुनौतियों के दौरान 80 करोड़ लोगों को एक वर्ष से ज्यादा समय तक मुफ्त अनाज दिया गया। इसे जारी रखते हुए ‘प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना’ के तहत पुन: 80 करोड़ जरूरतमंदों को प्रति माह प्रति व्यक्ति 5 किलो निशुल्क अनाज दिया जा रहा है। संकट के समय 8 करोड़ परिवारों को निशुल्क गैस सिलेंडर दिया गया है। 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खाते में 1500 रूपए दिए गए हैं। किसान सम्मान निधि का लाभ 10 करोड़ से अधिक किसानों को दिया गया है। ‘आत्मनिर्भर भारत’ पैकेज के तहत एक लाख करोड़ रुपए से समाज के सभी वर्गों को संकट के समय मदद की गई है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper