मजबूती से दे रहे हैं कोविड-19 को मात, कोरोना के खिलाफ जंग में भारत के ये 10 राज्य हैं आगे

नई दिल्ली: कोरोना ने दुनियाभर की नाक में दम किया हुआ है। हालांकि भारत कोरोना के दैनिक आंकड़ों में कमी के साथ थोड़ी राहत की सांस ले रहा है। इसके अलावा कोरोना से जल्द और अधिक रिकवरी की खबरें भी सुकून दे रही हैं। स्वास्थ्य मंत्रालय की जानकारी के अनुसार 10 राज्य और केन्द्र शासित प्रदेश ऐसे हैं जो रिकवरी के डेली आंकड़ों में लगभग 81% (लगभग 74,000) का योगदान कर रहे हैं। नए डिस्चार्ज किए गए रोगियों में से आधे 3 राज्यों से हैं। हालांकि इन राज्यों में देश के 48% से अधिक सक्रिय केस भी हैं।

भारत में शुक्रवार के आंकड़ों की बात करें तो देश में 54,366 नए कोविड-19 संक्रमण के साथ, भारत के कुल मामले 77,61,312 हो गए। इसके अलावा 690 नई मौतों के साथ, मरने वालों की कुल संख्या 1,17,306 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 20,303 की कमी के बाद कुल सक्रिय मामले 6,95,509 हैं। साथ ही पिछले 24 घंटे में 73,979 नए डिस्चार्ज के साथ कुल ठीक हुए मामले 69,48,497 हो चुके हैं।

देश में मृत्यु दर और सक्रिय मामलों की दर में भी लगातार गिरावट दर्ज की जा रही है। मृत्यु दर गिरकर 1.51% हो गई। इसके अलावा सक्रिय मामले जिनका इलाज चल है उनकी दर भी 10 फीसदी से कम है। वल्र्डोमीटर के मुताबिक, सक्रिय मामले और कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत दुनिया का दूसरा सबसे प्रभावित देश है। मौत के मामले में अमेरिका और ब्राजील के बाद भारत तीसरे स्थान पर है।

विशेषज्ञों ने चेताया है कि त्योहारों में भीड़ से कोरोना वायरस संक्रमण के मामले बढ़ सकते हैं। उन्होंने लोगों को त्योहार मनाते वक्त कई सावधानी बरतने की सलाह दी है। बाजार में भीड़-भाड़ से बचने को कहा है। त्योहारों में संक्रमण के केस बढ़ने का मामला केरल में देखा जा चुका है, जहां ओणम के बाद मामले लगातार बढ़ रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper