मजेदार चुटकुले: एक महाकंजूस पति अपनी पत्नी के साथ घूमने जाता है और कहता है…

आज के समय में हर किसी के जीवन में कई सारे जरुरी काम हैं जिसकी वजह से व्‍यक्ति हंसना भूल गया है। जी हां वहीं ये बात भी बता दें कि तनाव भरी लाइफ में इसके बहुत से वैज्ञानिक फायदे भी हैं। बताया जाता है तनाव भरे जीवन में आप अगर निश्चिंत और खुलकर जीना चाहते हैं तो हंसना जरूरी है। वहीं आपको बता दें कि मानसिक तनाव से दूर करने के लिए हंसी रामबाण साबित होता है। इसके साथ साथ आपके शरीर में कई ऐसे हार्मोन स्रावित होते हैं जो आपकी बॉडी की रोगों से रक्षा करते हैं लेकिन आज के व्‍यस्त जीवन में इंसान जैसे हँसना भूल गये हैं। तो आज हम आपके लिए कुछ ऐसे चुटकुले लेकर आए हैं जो आपको खुब हंसाने वाले हैं

1. तीनों दोस्त स्वर्ग के अंदर जा ही रहे थे कि यमदूत ने उन्हें रोका और कहा – स्वर्ग का दरवाजा ठीक कराना है। जरा तीनों अपना-अपना एस्टिमेट बताओ। पाकिस्तानी बोला – नौ हजार रुपए।
यमदूत – यह कैसे?
पाकिस्तानी – 3 हजार का मटेरियल, 3 हजार मजदूरी और 3 हजार मुनाफा।
अब चीनी का अनुमान – तैतीस हजार। 11 हजार का मटेरियल, 11 हजार रुपए मजदूरी और 11 हजार मेरे मुनाफा।
प्रेमसुख लाल (इंडियन) – उनतीस हजार।
यमदूत – यार! यह कैसा एस्टिमेट है?प्रेमसुख – सीधा-सा। 10 हजार मेरे, 10 हजार तुम्हारे और नौ हजार पाकिस्तानी ठेकेदार केस। वह काम अच्छे से काम निपटा देगा।

2. एक ताऊ 10 साल बाद एक मुकदमा जीत गए ,
जज -बधाई हो बावा ,आप केस जीत गए ,
ताऊ – शाबाश , भगवान तेरी इतनी तरक्की करे कि तू
दरोगा बन जाय,
जज – रे ताऊ , मैं तो जज हूँ , जज तो दरोगा से बड़ा होवे है ,
ताऊ – ना मेरी नजर में तो दरोगा बड़ा है ,
जज – कैसे ?
ताऊ – तूने केस खत्म करने में 10 साल लगा दिए , और वो दरोगा शुरू में ही कह रहा था ,बावा 5000 दो , मामला अभी रफा दफा कर दूँगा
जज बेहोश,

Source-Google

3. संता का एक्सीडेंट हो गया, मरने की हालत में बिस्तर पे लेटा था,
लोगों ने पूछा – कोई आखिरी इच्छा ??
संता – मेरे मरने के बाद सामने वाली फेमिली को जरूर बुलाना ,
लोग – क्यों ?
संता – क्यूंकि उनके घर की लेडीस मुर्दे से लिपट लिपट कर रोतीं हैं

4. पप्पू रेलवे में इंटरव्यू देने गया,
बॉस -अगर दो ट्रेन एक ही पटरी पर आमने सामने आ रहीं हो तो क्या करोगे ,
पप्पू – लाल झंडा दिखा दूं, बॉस – अगर झंडा नहीं मिला तो ,
पप्पू – तो टोर्च दिखा दूंगा , बॉस – अगर टॉर्च भी न मिली तो ?
पप्पू- अपनी लाल शर्ट उतार कर दिखा दूँगा ,
बॉस- और तुम्हारी शर्ट भी लाल ना हो तो ?
पप्पू- तो मैं अपनी बुआ के लड़के को फ़ोन करके बुलाऊंगा ,
बॉस – वो क्यों ?
पप्पू – क्यूंकि उसने कभी 2 ट्रेनों की टक्कर नहीं देखी …

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper