मप्र में कोरोना वायरस महामारी घोषित, स्कूल और कॉलेज से लेकर सिनेमा हाल और जिम तक बंद

भोपाल: मप्र सरकार ने कोरोना वायरस को महामारी घोषित किया है। सरकार ने प्रदेश में सभी स्कूलों, कॉलेजों से लेकर सिनेमा हाल और जिम तक 31 मार्च तक बंद कर दिया है। लेकिन मॉल अभी भी खुले हुए हैं। जबकि सबसे अधिक भीड़ मॉल में ही होती है।

प्रदेश में सतर्कता बरतते हुए सरकार ने कोरोना को महामारी घोषित कर दिया गया है और इसके मद्देनजर नए दिशा-निर्देश भी जारी किए जा रहे हैं। इसके तहत 20 से अधिक लोगों की सभाओं को रोकने के लिए कानूनी उपाय किए गए हैं। लेकिन मॉल को लेकर कोई दिशा-निर्देश नहीं दिए गए हैं। जबकि सबसे अधिक भीड़ मॉल में ही उमड़ती है।

मप्र सरकार कोरोना वायरस का प्रसार रोकने के लिए सभी संभव प्रयास कर रही है। सभी स्कूल, कॉलेज, सिनेमा हॉल, मैरिज हॉल, पब्लिक लाइब्रेरी, वॉटर पार्क, जिम, स्वीमिंग-पूल, आंगनवाड़ी आदि को आगामी आदेश तक बंद करने का निर्णय लिया गया है। कार्यालयों में कर्मचारियों की बायोमेट्रिक उपस्थिति की व्यवस्था को बंद किया गया है। सांस्कृतिक समारोह, सार्वजनिक समारोह, आधिकारिक यात्राओं और प्रशिक्षण कार्यक्रमों को स्थगित किया गया है।

शहर में कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए नगर निगम द्वारा सेनेटाइजेशन का काम किया जा रहा है। इसके लिए निगम प्रशासन ने पायरेथ्रम रसायन का छिड़काव करने के लिए 6 एसटीआईएचएल स्प्रे मशीनें खरीदी हैं। रविवार को इन मशीनों से बस स्टैंड, रेलवे स्टेशनों, बस स्टॉपों व बाजारों सायन का छिड़काव किया गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper