ममता के गढ़ में बरसे पीएम मोदी, बोले- मतदान की रिपोर्ट ने उड़ाई दीदी की नींद

कोलकाता: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज पश्चिम बंगाल के बुनियादपुर में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर जमकर निशाना साधा। मोदी ने कहा कि बंगाल में पहले और दूसरे चरण में मतदान की जो रिपोर्ट आयी हैं, उससे ‘दीदी’ ममता बनर्जी की नींद उड़ गई है। इसी बौखलाहट में किस तरह के जघन्य अपराध हो रहे हैं, वो भी देश देख रहा है।

पुरुलिया में एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या पर बोलते हुए प्रधामंत्री ने कहा कि मैं आश्वस्त करना चाहता हूं कि सभी को न्याय मिलेगा। उन्होंने कहा कि जो ल्रोग इस तरह की घटनाओं में शामिल होंगे उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। यहां पीएम ने मतदाताओं से ‘स्पीड-ब्रेकर दीदी’ ममता बनर्जी के शासन पर ब्रेक लगाने और ‘धमकी, लूट और भ्रष्टाचार की राजनीति’ को समाप्त करने के लिए भी कहा।

पीएम मोदी ने कहा, क्या आप नहीं चाहते कि धमकी, लूट और भ्रष्टाचार की यह राजनीति खत्म हो? फिर हर गांव, शहर, नुक्कड़ और कोने से बाहर आएं और तृणमूल के आतंक के शासन को रोकने के लिए माकूल जवाब दें। 23 मई को अपना जवाब दें और बंगाल को ऊपर उठाएं।

प्रधानमंत्री ने कहा कि वोट के लिए दीदी किसी भी हद तक जाने को तैयार है। पीएम ने कहा, ‘आतंक की लड़ाई में दीदी वोट बैंक देखती है और हम आतंक को उसी की भाषा में जवाब देते है जिससे आतंकी अब देश में घुसने से डरते हैं। दीदी ने एयर स्ट्राइक के सबूत मांगे। अरे दीदी, सबूत ही खोजने हैं तो चिटफंड के घोटालेबाज़ों के सबूत खोजो।’ मोदी ने दावा किया कि डराने-धमकाने से तृणमूल की बड़ी हार नहीं टलेगी। बंगाल भाजपा के साथ है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper