महिला दिवस पर एसआर ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशन ने किया संस्थान की सभी महिलाओं को सम्मानित

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के बख्शी का तालाब स्थित एसआर ग्रुप ऑफ इन्स्टीट्यूशन में शुक्रवार को विश्व महिला दिवस के अवसर पर संस्थान की सभी महिलाओं को 5000 छात्र एवं छात्राओं के समक्ष संस्थान के चेयरमैन पवन सिंह चौहान एवं वाइस चेयरपर्सन निर्मला सिंह चौहान एवं उनकी पुत्र वधु सुष्मिता सिंह चौहान के द्वारा सम्मानित किया गया। इस अवसर पर संस्थान के चेयरमैन पवन सिंह चौहान ने कहा कि सभी सहपाठी छात्राओं को आदर देना चाहिए क्योंकि जिन परिवारों में महिलायें परिवार के हर बड़े निर्णय में सहभाग करती हैं केवल वे ही परिवार उन्नति की ओर अग्रसर होते हैं एवं उन्ही परिवारों पर समाज के समक्ष उत्तम परिवार होने का दायित्व होता है।

अब बिना ट्रैफिक में उलझे करिए एयरपोर्ट से मुंशीपुलिया तक का सफर

उन्होंने आगे यह भी कहा कि समाज की संरचना इस प्रकार से हो कि महिलाओं का आदर के साथ उनकी प्रगति में भी सहायक बन सके। इस अवसर पर संस्थान की वाइस चेयरपर्सन निर्मला सिंह चौहान ने कहा कि महिला का परिवार में दिन पुरुषों के जागने से पहले और पुरुषों के सोने के बाद तक निरंतर चलता रहता है तब जाकर स्त्री एक घर को घर का रुप दे पाती है। समाज को अच्छा बनाये रखने में स्त्रियों का बहुत बड़ा योगदान रहता है। इसी क्रम में पुत्रवधु सुष्मिता सिंह चौहान के प्रथम आगमन पर एस आर ग्रुप मे उन्हें पूष्पगुच्छ एवं भावपूर्ण स्वागत किया गया।

अब बिना ट्रैफिक में उलझे करिए एयरपोर्ट से मुंशीपुलिया तक का सफर

विश्व महिला दिवस के उपलक्ष्य में सुष्मिता चौहान ने कहा कि वर्तमान समय में महिला स्वेच्छा से नौकरी, व्यवसाय, शिक्षा एवं विवाह करने के लिए स्वेच्छा से निर्णय ले सकती है जो कि इस समाज को आधुनिक समय के साथ बदलाव महिला सशक्तीकरण से ही सम्भव है एवं विश्व की सम्पूर्ण नारीशक्ति, मातृशक्ति को ह्रदय से नमन करते है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper