महिला समूहों के बनेंगे माइक्रो इंटरप्राइजेज, 30 हजार रुपये का होगा निवेश

लखनऊ: यूपी में स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं के माध्यम से पुष्टाहार उत्पादन का काम 43 जिलों के 204 विकासखंडों में किया जाना प्रस्तावित है। इनमें से उन्नाव के दो विकासखंडों में इसकी शुरुआत वर्ल्ड फूड प्रोग्राम के तहत की जा चुकी है। बाकी के 202 विकासखंडों में समूह में शामिल महिलाओं को एसोसिएशन ऑफ परसन (एओपी) में पंजीकृत कर माइक्रो इंटरप्राइजेज का गठन किया जाएगा।

इस संबंध में अपर मुख्य सचिव मनोज कुमार सिंह ने इन सभी जिलों के डीएम और मुख्य विकास अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। पुष्टाहार के एक प्लांट से 2-3 विकासखंडों में स्थित आंगनबाड़ी केंद्रों को सप्लीमेंट्री न्यूट्रीशियन की आपूर्ति की जाएगी। हर महिला स्वयं सहायता समूह माइक्रो इंटरप्राइजेज में पुष्टाहार उत्पादन के लिए 20 महिलाएं काम करेंगी। महिलाओं के 300 समूहों को संगठन कर एओपी बनाया जाएगा। यह संगठित समूह 30 हजार रुपये का निवेश करेगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper