मुजफ्फरनगर में फर्जी चेक से 39.42 लाख की धोखाधडी, बैंक मैनेजर गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

खतौली। मेरठ निवासी व्यक्ति के बैंक खाते से 39.42 लाख रुपये फर्जी चेक से निकालने के मामले में पुलिस ने पीएनबी भूड़ शाखा के पूर्व मैनेजर आदित्य कुमार को प्रयागराज से गिरफ्तार किया है। आदित्य पर पीड़ित के बैंक खाते की निगरानी करने का आरोप है। पुलिस इस मामले में चेक पास करने वाले प्रबंधक को पूर्व में गिरफ्तार कर जे भेज चुकी है जबकि मुख्य आरोपी अभी भी फरार है।

मेरठ के गंगानगर निवासी अशोक दीवान का बैंक खाता पंजाब नेशनल बैंक की भूड़ शाखा में है। दो साल से खाते में लेनदेन न होने के कारण नया आबादी निवासी शाह आलम ने फर्जी चेक लगाकर 39.42 लाख रुपये निकाल लिए थे। इसकी सूचना के बाद पीड़ित के बेटे धीरज दीवान ने खतौली कोतवाली में एक सितंबर 2021 को मुकदमा दर्ज कराया था। पुलिस की जांच में सामने आया था कि जीटी रोड स्थित पंजाब नेशनल बैंक के मैनेजर अनिरुद्ध ने चेक पास किया था। इसलिए उन्हें आरोपी मानते हुए पुलिस ने जेल भेज दिया था। पुलिस तभी से मुख्य आरोपी शाह आलम की तलाश में है। मकान की कुर्की करने के बाद भी शाह आलम और उसका भाई पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ सका है।

पुलिस इस मामले की लगातार जांच कर रही है। इसी बीच पंजाब नेशनल बैक भूड़ शाखा के मैनेजर आदित्य कुमार का स्थानांतरण हो गया था। पुलिस की जांच में पाया गया कि आदित्य कुमार जिस खाते से 39 लाख 40 हजार रुपये निकालने गए, उसकी बार-बार निगरानी कर रहा है। इतना ही नहीं उसकी कॉल आरोपी के मोबाइल से होनी पाई गई। इसी आधार पर पुलिस ने पीएनबी शाखा भूड़ पर रहे बैंक मैनेजर आदित्य कुमार को बांघबारी गद्दी, अल्लापुर थाना जार्ज टाउन जनपद प्रयागराज से पकड़ लिया। आरोपी को खतौली कोतवाली लाने के बाद पूछताछ कर उसका चालान कर दिया।

 

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper