---- 300x250_1 ----
--- 300x250_2 -----

मुरैना में किशोरी से रेप,ब्लैकमेल के आरोप में भागवताचार्य गिरफ्तार

मुरैना: मुरैना जिले के सबलगढ़ कस्बे में 16 वर्षीय एक किशोरी से बलात्कार और उसे ब्लैकमेल करने के आरोपी एक भागवताचार्य को गिरफ्तार कर बृहस्पतिवार को जेल भेज दिया गया।अनुविभागीय अधिकारी पुलिस (एसडीओपी) महेन्द्र शर्मा ने शुक्रवार को बताया कि सबलगढ़ कस्बे में करीब दो माह पहले भागवत कथा का आयोजन हुआ था। भागवत कथा पढ़ने के लिए उत्तर प्रदेश के बरसाना के राधा कुंज से 40 वर्षीय भागवताचार्य मुरारी दास उर्फ महेंद्र प्रजापति को बुलाया गया था।

उन्होंने दर्ज मामले के आधार पर बताया कि भागवत कथा के दौरान मुरारी दास को एक व्यवसायी ने अपने घर पर तीन दिन तक रखकर उसका स्वागत-सत्कार किया। इस दौरान उसने व्यवसायी की 16 वर्षीय बेटी को बहला-फुसलाकर तीन दिन तक उससे दुष्कर्म किया।शर्मा ने बताया कि भागवत कथा के समापन के बाद भी आरोपी मोबाइल से लड़की से बात करता था और लगातार उसके संपर्क में रहता था। साथ ही बीच में एक-दो बार वह बरसाना से सबलगढ़ भी आया। उन्होंने कहा कि चार दिन पहले आरोपी भागवताचार्य के झांसे में आकर किशोरी अपने घर से पिता के सवा लाख रपए नकद व मां के कुछ जेवरात लेकर बरसाना चली गई थी। परिवार के लोगों को पता चला तो उन्होंने तुरंत कैलारस थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई।

पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर बुधवार रात नाबालिग किशोरी को बरसाना से बरामद किया। शर्मा ने कहा कि लड़की ने पुलिस को बताया कि भागवताचार्य ने उसके साथ दुष्कर्म किया है और उसने उसे ब्लैकमेल कर बरसाना बुलाया था। इसलिए मजबूर होकर वह घर से भागी थी।

उन्होंने कहा कि पुलिस आरोपी भागवताचार्य को उत्तर प्रदेश के बरसाना से बुधवार रात गिरफ्तार कर यहां लाई। गुरुवार को उसे स्थानीय अदालत में पेश किया गया, जहां से उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। शर्मा ने बताया कि पुलिस ने आरोपी भागवताचार्य के खिलाफ भादंवि की धारा 376 (बलात्कार) सहित विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है और विस्तृत जांच जारी है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
-------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper