मेडिकल कॉलेजों में संविदा के आधार पर चिकित्सा शिक्षकों की होगी नियुक्ति

लखनऊ ब्यूरो। राज्य सरकार ने उत्तर प्रदेश के मेडिकल कॉलेजों में रिक्त चिकित्सा शिक्षकों के पदों पर संविदा के आधार पर नियुक्ति शुरु कर दी है। इस संबंध में शासन की तरफ से मंगलवार को आदेश भी जारी कर दिए गए।

सरकार ने राजकीय मेडिकल कॉलेज, इलाहाबाद, जालौन, बदायूं एवं झांसी में विभिन्न विशिष्टताओं में रिक्त चिकित्सा शिक्षकों के पदों पर संविदा के आधार पर नियुक्ति के आदेश दिये हैं। चिकित्सा शिक्षा विभाग द्वारा जारी शासनादेश में कहा गया है कि शिक्षकों के संविदा के आधार पर 01 वर्ष अथवा नियमित नियुक्ति होने से जो भी पहले घटित हो, तक के लिए प्रतिबन्ध सहित नियुक्ति व तैनाती किए जाने की स्वीकृति प्रदान की जाएगी।

शासनादेश के अनुसार संविदा पर तैनात शिक्षक ओपीडी के दिन प्राइवेट प्रैक्टिस नहीं करेंगे। प्राइवेट प्रैक्टिस करने की दशा में प्राइवेट प्रेक्टिस करने के स्थान को निर्दिष्ट करेंगे। मरीजों को प्राइवेट में देखने के लिए बाध्य नहीं करेंगे। प्राइवेट प्रैक्टिस करने की दशा में मेडिकल कालेज में आकस्मिक व आपदा सेवाओं के लिए हमेशा उपलब्ध रहेंगे।

ये शिक्षक निर्धारित नियत वेतन के अतिरिक्त अन्य किसी प्रकार के वेतन, भत्ते एवं सेवागत लाभ के हकदार नहीं होंगे। इसके अलावा ये शिक्षक स्थानान्तरित नहीं किये जायेंगे। संविदा कालावधि के लिए किसी प्रकार के पेंशन संबंधी सुविधाओं के हकदार नहीं होगे, न ही ऐसी कालावधि के लिए बोनस पायेंगे। संविदा शिक्षकों को 22 जनवरी 2015 को जारी शासनादेश के अनुसार नियत वेतन देय होगा।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper