मेनका बोली, राहुल गांधी कितनी भी कोशिश कर लें, कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते

नई दिल्ली: लोकसभा चुनावों को लेकर हर राजनीतिक पार्टियां अपने घोषणापत्रों में किए गए वादों को लोगों के सामने रखकर उन्हें रिझाने का प्रयास कर रही है। एक तरफ जहां मोदी लहर का दबदबा आज भी लोगों के दिलों में कायम है, तो वहीं दूसरी तरफ कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम बनने की दौड़ में है। हालाकि कौन बनेगा पीएम ये तो देश की जनता पर निर्भर है। बीजेपी की नेता मेनका गांधी ने राहुल गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि वह कुछ भी कर ले पर प्रधानमंत्री नहीं बन सकते।

पीलीभीत से 6 बार सांसद रह चुकी मेनका गांधी इस बार भी पीलीभीत के सुल्तानपुर से चुनाव लड़ रही है। इक निजी टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में मेनका गांधी ने कहा कि सुल्तानपुर सीट से उनके पति संजय गांधी दो बार और वरुण गांधी पिछली बार चुनाव जीत चुके हैं। इस मुश्किल सीट पर इस बार वे और कार्यकर्ता मिलकर एक बार फिर से मेहनत कर रहे हैं। मेनका गांधी ने अपनी जीत का भरोसा दिया है। मेनका गांधी ने कहा कि ‘समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन के संयुक्त उम्मीदवार से मुझे कोई खतरा नहीं है और मैं चुनाव जीत रही हूं। मायावती की पार्टी के बारे में हम सब जानते हैं। वो पैसे लेकर टिकट बेचती हैं। इस बार सुल्तानपुर में 15 करोड़ में टिकट बेचा गया है।’

UPSC Result 2018: महिलाओं में 23 साल की सृष्टि तो पुरुषों में कनिष्क कटारिया बने टॉपर

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए मेनका गांधी ने कहा कि चुनाव दर चुनाव कार्यकर्ता कम होते जा रहे हैं। दूसरी तरफ उनके पास कोई मुद्दा नहीं है। इसलिए उनका कोई प्रभाव नहीं होगा।’ राहुल गांधी के वायनाड से चुनाव लड़ने पर उन्होंने कहा कि ‘कोई भी व्यक्ति दो सीटों से या उससे भी ज्यादा सीटों पर चुनाव लड़ सकता है। मेनका गांधी ने कहा कि राहुल गांधी कितनी भी कोशिश कर लें, कभी भी प्रधानमंत्री नहीं बन सकते। अगर कोई करिश्मा हो जाए तो मैं कह नहीं सकती हूं।’ उन्होंने आगे कहा कि दिन प्रतिदिन हमारी स्थिति पहले से बेहतर होती जा रही है। पिछली बार से ज्यादा सीटें जीतकर हम सरकार बनाने जा रहे हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper