मोदी की जीत के बाद सेना को बड़ी सफलता, मोस्ट वांटेड आतंकी जाकिर मूसा ढेर

नई दिल्ली: देश में लोकसभा चुनाव की मतगणना के बीच कश्मीर घाटी में सेना ने आतंकियों के खिलाफ एक बेहद बड़ी कार्रवाई की है। जम्मू कश्मीर के पुलवामा के त्राल में गुरुवार शाम सुरक्षाबलों ने अलकायदा के कथित आतंकी जाकिर मूसा को मार गिराया। आतंकी संगठन अंसार गजावत-उल-हिंद के चीफ जाकिर मूसा को पुलवामा के उसी इलाके में मार गिराया गया है, जहां साल 2016 में सेना ने हिज्बुल के कमांडर बुरहान वानी को ढेर किया था। उसके शव को भी बरामद कर लिया गया। मौके से एके-47 राइफल और एक रॉकेट लॉन्चर भी जब्त किया है। मूसा बुरहान वानी की मौत के बाद हिजबुल का कमांडर बना था। बाद में उसने कश्मीर में अल-कायदा से जुड़ा संगठन अंसार गजवत-उल-हिंद शुरू किया था।

सूत्रों के अनुसार, कश्मीर घाटी में सेना को गुरुवार दोपहर पुलवामा के त्राल में जाकिर मूसा के मौजूद होने की जानकारी मिली थी। इस सूचना पर सेना की 42 राष्ट्रीय राइफल्स, जम्मू-कश्मीर पुलिस के स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप, और केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के जवानों ने यहां पर बड़ा सर्च ऑपरेशन शुरू किया।

इस दौरान जाकिर मूसा के ठिकाने की घेराबंदी कर सेना के अधिकारियों ने उसे सरेंडर करने के लिए कहा, खुद को घिरता देख आतंकियों ने सैनिकों पर फायरिंग की। जिसपर मूसा ने सेना के अधिकारियों पर ग्रेनेड हमला कर भागने की कोशिश की। हालांकि, जवाबी कार्रवाई में मूसा मारा गया। इलाके में कुछ और आतंकियों के छिपे होने की जानकारी के बाद सेना की कुछ और टुकड़ियां भेजी गई हैं। फिलहाल अफवाहें रोकने के लिए पुलवामा और पास स्थित अवंतिपोरा में इंटरनेट बंद कर दिया गया है।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper