मोदी की महंगी कारें जब्त

लखनऊ ट्रिब्यून ब्यूरो: पंजाब नेशनल बैंक से 11,300 करोड़ रुपये के घोटाले के आरोपी डायमंड कारोबारी नीरव मोदी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने गुरूवार को छह करोड़ रुपये की रोल्ज रॉयल गोस्ट, दो मर्सेडीज बेंज जीएल 350 सीडी आईएस, एक पोर्शे पैंटमेरा, 3 होंडा कार, एक टोएटा फार्चूनर और एक टोएटा इनोवा कारों को जब्त किया है.

इसके अलावा ईडी ने नीरव मोदी के 7.80 करोड़ रुपये की कीमत वाले म्युचुअल फंड और शेयर भी जब्त किये हैं. 11,400 करोड़ रुपये के कथित पीएनबी धोखाधड़ी मामले में मुंबई की एक विशेष अदालत ने नीरव मोदी की कंपनी के सीएफओ विपुल अंबानी समेत 5 अन्य को पांच मार्च तक सीबीआइ हिरासत में भेज दिया गया है. विपुल अंबानी, नीरव मोदी की फायर स्टार डायमंड के अध्यक्ष (वित्त) हैं. नीरव मोदी और उसके रिश्तेदार व गीतांजलि जेम्स के मालिक मेहुल चौकसी की संलिप्तता वाले मामले में सीबीआइ द्वारा दर्ज की गई प्राथमिकियों के आधार पर इन सभी छह लोगों को मंगलवार को गिरफ्तार किया गया.

बता दें कि सीबीआइ की एफआइआर में लिखा गया है कि 2011-17 के बीच 6,498 करोड़ रुपये मूल्य के150 फर्जी एलओयू (जो कि एक तरह की बैंक गारंटी है) और 4,886 करोड़ रुपये मूल्य के143 फर्जी एलओयू साइन किए गए. इस मामले में अंबानी, कविता मानकीकर (कार्यकारी सहायक और तीन कंपनियां – डायमंड आर यूएस, स्टेलर डायमंड, सोलर एक्सपोर्ट्स), अर्जुन पाटील (सीनियर एक्जीक्यूटिव, फायरस्टार ग्रुप), और पीएनबी की ब्रैडी हाउस शाखा के तत्कालीन प्रमुख राजेश जिंदल को 31 जनवरी को सीबीआई द्वारा दर्ज एफआईआर में आरोपी के रूप में सूचीबद्ध किया गया था.

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper