मोदी सरकार का बड़ा नीतिगत फैसला, रिटेल में 100% FDI

नई दिल्ली: कांग्रेस ने एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में 100 फीसद एफडीआई की अनुमति पर प्रधानमंत्री मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली के पुराने वीडियो और बयान दिखाकर सरकार की आलोचना की। पार्टी ने कहा कि भाजपा के कहने और करने में अंतर है। पिछली सरकार ने एकल ब्रांड खुदरा क्षेत्र में सेफ गार्ड रखे थे,जिन्हें हटा दिया गया है।

मोदी सरकार ने सिंगल ब्रांड रिटेल में 100 फीसद और एयर इंडिया में 49 फीसद तक के प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को अपनी मंजूरी प्रदान कर दी है। इसके अलावा निर्माण सेवा क्षेत्र सहित विभिन्न क्षेत्रों में एफडीआई नियमों में कुछ छूट प्रदान की गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अध्यक्षता में बुधवार को यहां हुई केन्द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में ये निर्णय लिए गए। यहां जारी आधिकारिक बयान के अनुसार सरकार ने एकल ब्रांड खुदरा कारोबार तथा निर्माण क्षेत्र में स्वचालित मार्ग से विदेशी निवेश की अनुमति देकर इन दोनों ही क्षेत्रों को पूरी तरह से विदेशी कंपनियों के लिए खोल दिया है।

इसे भी पढ़िए: मिट्टी के तवे की फिर हो रही है वापसी, इस पर बनी रोटी खाने के है कई फायदे

पुरानी व्यवस्था के तहत एकल ब्रांड खुदरा कारोबार में 49 प्रतिशत एफडीआई के लिए विदेशी कंपनियों को किसी अनुमति की आवश्यकता नहीं थी। इससे अधिक सीमा के निवेश के लिए सरकार से अनुमति लेनी पड़ती थी लेकिन अब नई व्यवस्था के तहत विदेशी कंपनियां स्वचालित मार्ग से 100 फीसद एफडीआई कर सकेंगी और इसके लिए उन्हें सरकार से कोई अनुमति भी नहीं लेनी होगी हालांकि उन्हें भारत में अपनी पहली दुकान खोलने के दिन से अगले पांच साल तक अपने नियंतण्र कारोबार के लिए कच्चे माल का 30 फीसद हिस्सा भारत से ही खरीदना होगा। मंत्रिमंडल ने विदेशी विमानन कंपनी को एयर इंडिया में 49% तक हिस्सेदारी लेने की भी अनुमति दी है, हालांकि इसके लिए विदेशी विमानन कंपनी को मंजूरी लेनी होगी।

एयरलाइंस में विदेशी निवेश संबंधी अब तक की नीति के अनुसार अनुसूचित और गैर-अनुसूचित हवाई परिवहन सेवाओं के क्षेत्र में काम कर रही भारतीय कंपनियों की चुकता पूंजी में विदेशी विमानन कंपनी 49% तक हिस्सेदारी ले सकती हैं। लेकिन यह प्रावधान एयर इंडिया पर लागू नहीं था। विज्ञप्ति में कहा गया है, अब यह तय किया गया है कि इस प्रतिबंध को समाप्त कर दिया जाए और विदेशी विमानन कंपनियों को मंजूरी लेकर एयर इंडिया में 49% तक हिस्सेदारी में निवेश की अनुमति दी जाए।

यह भी देखें: जानिए 11 जनवरी को क्या कहती है आपकी राशि और कैसा रहेगा आपका दिन

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
Loading...
E-Paper