मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया- महाराष्ट्र को केंद्र देगा 4 लाख से अधिक रेमडेसिवीर, CM उद्धव ठाकरे ने बोले धन्यवाद

मुंबई: महाराष्ट्र को कोरोना वायरस से उबारने के लिए केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। कोरोना वायरस से देश में सबसे ज्यादा महाराष्ट्र प्रभावित है। केंद्र सरकार ने रेमडेसिवीर की सप्लाई के लिए मंजूरी दे दी है। केंद्र ने सरकार ने महाराष्ट्र के लिए रेमडेसिवीर की 4.35 लाख वायल (छोटी शीशी) की मंजूरी दे दी है। 4,35,000 रेमडेसिवीर शीशियों की आपूर्ति की मंजूरी दिए जाने के बाद महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने (24 अप्रैल) को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया है। रेमडेसिवीर इंजेक्शन कोरोना मरीजों के इलाज में भारत में इस्तेमाल किया जा रहा है। कोरोना वायरस की दूसरी लहर में इसकी मांग पूरे देश में बढ़ गई है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने राज्य में रेमडेसिवीर की कमी से केंद्र की सरकार को अवगत कराया था।

मुख्यमंत्री कार्यालय के एक बयान के मुताबिक सीएम ठाकरे ने एक पत्र लिखकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से रेमडेसिवीर के सप्लाई के लिए अनुरोध किया था। जिसके बाद केंद्र ने 30 अप्रैल तक राज्य को 4 लाख 35 हजार शीशियों की आपूर्ति करने का आदेश दिया है। सीएम ठाकरे ने कहा, वर्तमान में 2.69 लाख वायल की सप्लाई के लिए बोला गया था लेकिन मांग के बाद केंद्र सरकार ने इसे बढ़ाकर 4.35 लाख वायल किया है। राज्य सरकार को केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय से बारे में पत्र लिखकर सूचित किया गया है। अधिकारिक बयान के मुताबिक देश भर के राज्यों की मांग के अनुसार केंद्र 16 लाख रेमडिसवीर शीशियों की आपूर्ति करेगा और सात लाइसेंस प्राप्त फार्मा को रेमडिसवीर की प्रोडक्शन को बढ़ाने का निर्देश दिया गया है।

सिर्फ 99 दिनों में 14 करोड़ लोगों को लगाई गई कोरोना वैक्सीन, भारत दुनिया में सबसे तेजी से टीका लगाने वाला देश शनिवार (24 अप्रैल) शाम को राज्य स्वास्थ्य बुलेटिन के अनुसार, महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटों में 67,160 नए कोविड-19 के मामले सामने आए हैं 676 मौतें हुई हैं। राज्य में अब तक कोरोना वायरस से 63,928 लोगों की मौत हो गई है। राज्य में कुल सक्रिय मामले 6,94,480 हो गए हैं। महाराष्ट्र में कुल पॉजिटिव मामलों की संख्या 42,28,836 हो गई है। बीमारी से कुल 34,68,610 मरीज ठीक हो चुके हैं।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper