मोबाइल नंबर ट्रेस कर आरोपी पिता तक पहुंची पुलिस, यमुना एक्सप्रेसवे पर लाल सूटकेस में मिली थी लाश

मथुरा। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मथुरा (Mathura) जिले में यमुना एक्सप्रेसवे (Yamuna Expressway) के किनारे लाल रंग के सूटकेस में मिली लाश दिल्ली की रहने वाली आयुषी (25) की थी। आयुषी की मां और भाई को मथुरा पोस्टमार्टम हाउस पर बुलाकर शिनाख्त कराई गई है। जांच के बाद पता चला है कि पिता ने ही बेटी की हत्या कर शव को एक्सप्रेसवे के किनारे फेंका था। पिता को हिरासत में लिया गया है।

18 नवंबर को सूटकेस में मिला था शव
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक मथुरा के एसपी सिटी मार्तंड पी सिंह ने बताया कि 18 नवंबर को मथुरा में यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे मिले युवती के शव की शिनाख्त कर ली गई है। युवती का परिवार दिल्ली के बदरपुर इलाके में रहता है। वह 17 नवंबर को दिल्ली स्थित अपने घर से निकली थी। मामले की जांच की जा रही है।

मथुरा से लेकर गुरुग्राम तक किया संपर्क
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मथुरा में राया स्थित कृषि अनुसंधान केंद्र के पास यमुना एक्सप्रेसवे के किनारे एक लाल रंग के सूटकेस में युवती की लाश मिली थी। पुलिस ने शव को शिनाख्त कराने के लिए यमुना एक्सप्रेसवे पर लगे सभी सीसीटीवी और मथुरा और लेकर गुरुग्राम तक की पुलिस से संपर्क किया था। इसके अलावा मोबाइल सर्विलांस की भी मदद ली गई। करीब 20 हजार मोबाइल नंबरों को ट्रैस किया गया था।

मां और भाई पहुंचे मथुरा
पुलिस ने काफी गहन छानबीन के बाद पता लगाया कि शव आयुषी यादव पुत्री नितेश यादव निवासी गली नंबर-65, गांव मोड़बंद, थाना बदरपुर (दिल्ली) का है। पुलिस ने तत्काल घर वालों से संपर्क किया। जानकारी होने पर आयुषी की मां और भाई मथुरा पहुंचे। उन्होंने शव की पहचान की। बता दें कि आयुषी के चेहरे और शरीर पर चोटों के निशान थे। इसके साथ ही उसके सीने में गोली मारी गई थी। पुलिस सूत्रों के मुताबिक आयुषी की हत्या उसके पिता नितेश यादव ने की थी।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- ----------------------------------------------------------------------------------------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper