यशपाल आर्य के कांग्रेस में शामिल होने से पार्टी पर नहीं पड़ेगा असर: भाजपा

नई दिल्ली: भाजपा ने दावा किया है कि यशपाल आर्य के कांग्रेस में शामिल होने से उत्तराखंड में पार्टी की चुनावी संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा। उत्तराखंड में पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री रहे आर्य 11 अक्टूबर को अपने विधायक बेटे संजीव आर्य के साथ कांग्रेस में शामिल हुए थे।

6 बार के विधायक और एक प्रमुख दलित नेता, आर्य 2017 में उत्तराखंड में पिछले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस से भाजपा में शामिल हो गए थे। कांग्रेस में रहते हुए, उन्होंने उत्तराखंड विधानसभा के अध्यक्ष के रूप में कार्य किया था। वह कांग्रेस की उत्तराखंड इकाई के अध्यक्ष भी थे।

भाजपा के एक वरिष्ठ पदाधिकारी ने कहा, “आर्य एक वरिष्ठ नेता हैं और उन्होंने अपनी पुरानी पार्टी कांग्रेस में शामिल होने के लिए हमारा साथ छोड़ गये। आर्य के कांग्रेस में लौटने से अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा की चुनावी संभावनाओं पर कोई असर नहीं पड़ेगा।”

पार्टी के एक अन्य नेता ने बताया कि आर्य को पूरा सम्मान दिया गया और उन्हें भाजपा सरकार में मंत्री बनाया गया। उन्होंने कहा, “भाजपा की कार्यशैली के साथ तालमेल बिठाने में असमर्थ, (जो देश को परिवार से पहले रखती है) आर्य के भाजपा छोड़ने का एक कारण हो सकता है।”

भगवा पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि 2017 में आर्य के पार्टी में शामिल होने से पहले ही भाजपा को समाज के सभी वर्गों से वोट मिल रहे थे और उनके जाने के बाद भी उसे वोट मिलते रहेंगे।

“आर्य के जाने से पहले, एक प्रभावशाली दलित नेता और कांग्रेस विधायक, राजकुमार, राज्य भर में प्रभाव रखने वाले भाजपा में शामिल हो गए थे। आर्य के जाने से हमें जो भी नुकसान होगा, उसकी भरपाई राजकुमार करेंगे। दूसरी बात यह है कि भाजपा एक कैडर-आधारित पार्टी है, जहां किसी व्यक्ति के शामिल होने और छोड़ने का बहुत कम प्रभाव पड़ता है।”

राजकुमार से पहले धनोल्टी से निर्दलीय विधायक प्रीतम सिंह पंवार भाजपा में शामिल हुए थे।

उत्तराखंड भाजपा प्रमुख मदन कौशिक ने पहले आईएएनएस से कहा था कि विधानसभा चुनाव से पहले और लोग पार्टी में शामिल होंगे।

उन्होंने कहा, “विपक्षी दलों के कई नेताओं ने भाजपा में शामिल होने की इच्छा के साथ हमसे संपर्क किया है। उत्तराखंड में विधानसभा चुनाव से पहले अन्य राजनीतिक दलों के कई बड़े नाम भाजपा में शामिल होंगे।”

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper