यह सरकारी कंपनी पोस्ट ऑफिस से भी जल्दी डबल कर रही है पैसा, जल्दी करें निवेश

अगर आप चाहते हैं कि आपका पैसा सुरक्षित रहे और दोगुना भी हो जाए तो आपके लिए अच्छी खबर है. एक सरकारी कंपनी पोस्ट ऑफिस से भी कम समय में पैसा दोगुना कर रही है. वरिष्ठ नागरिकों को यह कंपनी 9.04 फ़ीसदी तक का ब्याज दे रही है, जबकि आम लोगों को 8.51 फ़ीसदी तक का ब्याज मिल रहा है. वरिष्ठ नागरिक के लिए उम्र सीमा 58 साल तय की गई है.

पोस्ट ऑफिस की किसान विकास पत्र स्कीम लोगों का पैसा डबल करती है, जिस पर लोगों को 6.9 का ब्याज मिल रहा है और निवेश के 10 साल 4 महीने के बाद पैसा डबल होता है. लेकिन तमिल नाडु पावर फाइनेंस एंड इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन लिमिटेड ऐसी कंपनी है जो पोस्ट ऑफिस से भी जल्दी पैसा डबल कर रही है.

यह कंपनी दो तरह की एफडी जारी करती है, एक है संचयी सावधि जमा और दूसरी है गैर संचयी सावधि जमा. संचयी सावधि जमा योजना में मैच्योरिटी के बाद पैसा मिलता है, लेकिन आप हर महीने, तिमाही या सालाना ब्याज चाहते हैं तो आप गैर संचयी सावधि जमा योजना ले सकते हैं. संचयी सावधि जमा योजना के तहत आपको 1 साल से लेकर 5 साल तक की एफडी कराने का विकल्प मिलता है.

सामान्य नागरिकों को 1 साल की एफडी पर 7.25 फ़ीसदी का ब्याज मिलता है, जबकि 2 साल की एफडी पर 7.50 और 3 और 4 साल की अवधि पर 8 फीसदी का, जबकि 5 साल की एफडी पर 8.50 फ़ीसदी का ब्याज मिलता है. 1 साल की एफडी में 1 लाख रुपये बढ़कर 1,07,450 रुपये हो जाएगा. हालांकि इस योजना के तहत वरिष्ठ नागरिकों को 1 साल की एफडी पर 7.50 फीसदी का, 2 साल की एफडी पर 7.75, 3 और 4 साल की अवधि पर 8.50 और 5 साल की एफडी पर 8.75 फ़ीसदी का ब्याज मिल रहा है.

अगर आप गैर संचयी सावधि जमा योजना में निवेश करते हैं तो आप न्यूनतम 2 साल की एफडी करा सकते हैं. इस पर आपको तिमाही ब्याज के रूप में 7.50 फीसदी का ब्याज मिलता है. ब्याज दरों की पूरी जानकारी के लिए आप नीचे दी गई वेबसाइट पर जा सकते हैं-

https://www.tnpowerfinance.com/tnpfc-web/products

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें...
Loading...
--------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------- ---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper