यूपीएमआरसी ने गुरु नानक गर्ल्स इंटर कॉलेज में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया

लखनऊ: उत्तर प्रदेश मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन ने पर्यावरण संरक्षण के लिए सार्वजनिक परिवहन के रूप में मेट्रो के अधिकतम उपयोग के लिए जागरूकता कार्यक्रम शुरू किया है। पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय (भारत सरकार) के दृष्टिकोण के अनुरूप, यूपीएमआरसी ने एक बार इस्तेमाल में लाई जाने वाली प्लास्टिक के खिलाफ अभियान भी शुरू किया है। प्लास्टिक नॉन-बायोडिग्रेडेबल होने के कारण कई वर्षों तक पर्यावरण में बना रहता है जिससे धरती प्रदूषित होती है।

यूपीएमआरसी के अधिकारियों ने एक महीने तक चलने वाले अभियान ‘ग्रीन सिटी क्लीन सिटी’ की योजना बनाई है, जिसके अंतर्गत छात्रों के लिए इंटरैक्टिव सत्र आयोजित किए जाएंगे। मास रैपिड ट्रांजिट सिस्टम के रूप में मेट्रो पर्यावरण के अनुकूल है और स्वच्छ ऊर्जा (शून्य कार्बन उत्सर्जन) का उपयोग करती है। गुरु नानक गर्ल्स इंटर कॉलेज में जागरूकता सत्र के दौरान छात्राओं को मेट्रो के उपयोग के संबंध में जानकारी दी गई। इसके अलावा सुपर सेवर और गोस्मार्ट कार्ड के लाभों के साथ-साथ मेट्रो परिसर के अंदर क्या करें और क्या न करें के बारे में भी अवगत कराया गया।

जागरूकता सत्र का समापन प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के साथ हुआ जहां छात्राओं ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। प्रश्नोत्तरी प्रतियोगिता के विजेताओं को पर्यावरण अनुकूल यात्रा के लिए प्रोत्साहित करने के लिए “गो स्मार्ट कार्ड” से सम्मानित भी किया गया।

नोट: अगर आपको यह खबर पसंद आई तो इसे शेयर करना न भूलें, देश-विदेश से जुड़ी ताजा अपडेट पाने के लिए कृपया The Lucknow Tribune के  Facebook  पेज को Like व Twitter पर Follow करना न भूलें... ------------------------- ------------------------------------------------------ -------------------------------------------------------- ------------------------------------------------------------------- --------------------------------------------- --------------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------- --------------------------------------------------------------------------   ----------------------------------------------------------- -------------------------------------------------- -----------------------------------------------------------------------------------------
----------- -------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
E-Paper